पीएम मोदी का राष्ट्र के नाम संबोधन, कहा- वैक्सीनेशन अभियान में हावी नहीं हो सका वीआईपी कल्चर

देश में कोरोना वैक्सीन को लेकर चल रहे मेगा अभियान की अपार सफलता के बाद आज पीएम ने देश को संबोधित किया है। प्रधानमंत्री मोदी ने शुक्रवार सुबह 10 बजे लाइव आकर डॉक्टर्स, नर्सेस और अन्य लोगों की भूमिका की सराहना करते हुए कहा कि 100 करोड़ वैक्सीन डोज केवल एक आंकड़ा ही नहीं, ये देश के सामर्थ्य का प्रतिबिंब भी है। इस दौरान पीएम ने भारत की क्षमताओं और उसके गुणों पर भी चर्चा की। प्रधानामंत्री ने कहा कि ये आंकड़ा इतिहास के उस अध्याय की रचना है जो नया है। ये उस नए भारत की तस्वीर है जो कठिन लक्ष्य निर्धारित कर, उन्हें हांसिल करना जानता है।

बता दें, केंद्र सरकार की ओर से चलाए जा रहे सबको वैक्सीन, मुफ्त वैक्सीन अभियान के तहत देश में 100 करोंड़ टीके का टार्गेट पूरा कर लिया गया है। इसमें गौर करने वाली बात यह रही कि किसी के साथ भी भेदभाव नहीं हुआ। इसपर विषय पर चर्चा करते हुए पीएम ने कहा कि देश में चल रहे मेगा वैक्सीनेशन अभियान पर वीआईपी कल्चर हावी नहीं हो सका। उन्होंने आगे कहा कि
“सबको साथ लेकर देश ने ‘सबको वैक्सीन-मुफ़्त वैक्सीन’ का अभियान शुरू किया। गरीब-अमीर, गांव-शहर, दूर-सुदूर, देश का एक ही मंत्र रहा कि अगर बीमारी भेदभाव नहीं करती, तो वैक्सीन में भी भेदभाव नहीं हो सकता! ये सुनिश्चित किया गया कि वैक्सीनेशन अभियान पर वीआईपी कल्चर हावी न हो।