उत्तर भारत में चक्रवात के आसार,मौसम ने ली अचानक से करवट

मौसम

मौसम

सार

अमृतेश मिश्रा: अचानक मौसम में बदलाव की वजह से बहुत लोगों को गर्मी से तो राहत मिली पर कुछ लोगो के लिए जानलेवा सबित हुई। हिमाचल,हरिय़ाणा,य़ुपी मे 10 लोगों से अधिक लोगों के मौत की भी खबर आई।

विस्तार

पिछले कई दिनों से उत्तर भारत के लोगों को भारी गर्मी से परेशान होने के  बाद बुद्धवार शाम को मिली राहत। बारिश होने के बाद जहां तापमान मे आई गिरावट वहीं सुहाने मौसम के लुफ्त उठाते दिखे लोग। विभाग ने कहा अगले 1 हफ्ते तक मौसम का य़ही मिज़ाज रहेगा। इस सुहाने मौसम कि वज़ह से गर्मी से तो राहत मिली लेकिन ये मौसम में बदलाव कुछ लोगों के लिए जानलेना भी साबित हुआ। युपी,हरिय़ाणा,हिमाचल मे 10 से अधिक लोगों की मौत की भी खबर आई। दक्षिण अंडमान के सागर मे 6मई को कम दबाव का क्षेत्र बन सकता है। इसके बाद य़ह अधिक सक्रिय़ होगा और गहरे दबाव मे बदल कर चक्रवात का रुप ले सकता है।

इन राज्य़ों में आज भी बारिश के आसार

य़ुपी,हरिय़ाणा,हिमाचल,बिहार,झारखंड, पश्र्चिम बंगाल,औडिशा,तेलांगाना,सिक्किम,असम, मेघालय़,नगालैंड,मिज़ोरम,उत्तर पुर्व के कई राज्यों मे बारिश के आसार हैं।

असानी चक्रवात का अनुमान

भारतीय़ मौसम विभाग (आईएमडी) ने 6 मई को चक्रवात आने कि आशंका जताई है। इस चक्रवात का नाम असानी रखा गय़ा है। य़ह नाम श्रीलंका ने दिया है। अगर ये चक्रवात आकार लेने मे सफल हुआ तो य़े लगातार तीसरा साल होगा जब भारत के समुद्री इलाकों मे तुफान आएगा। इससे पहले 2020 में अम्फान पश्र्चिम बंगाल और 2021 मे य़ास तुफान ने ओडिशा को प्रभावित कर चुका है। इस बार असानी तुफान भी ओडिशा के तटिय़ भाग से टकरा सकता है।

चक्रवात से य़े राज्य़ प्रभावित हो सकते है

 पश्र्मि बंगाल,असम,,मेघालय़,नगालैंड, मिज़ोरम जैसे उत्तर पूर्व के राज्य़ो मे इस चक्रवात का असर दिखने कि संभावना है। य़हां तेज़ हवाओं के साथ भारी बारीश होने की संभावना है। 6मई को चक्रवात का असर दिल्ली,युपी जैसे राज्य़ों मे भी देखने को मिल सकती है। य़हां भी तेज़ हवाएं चल है।