अलवर में नाबालिग के साथ हुई हैवानियत के आरोपी अब तक पुलिस की गिरफ्त से बाहर

अलवर में नाबालिग

अलवर में नाबालिग

राजस्थान के अलवर जिले में नाबालिग बच्ची के साथ हुई हैवानियत के मामले को लेकर लोग काफी आक्रोष में हैं. ऐसे में जब कुछ बच्चियां सुरक्षा की मांग को लेकर जिला कलेक्टर के पास पहुंची तो कलेक्टर ने उनसे ऐसा बर्ताव किया कि हर कोई दंग रह गया. कलेक्टर ने बच्चियों की बात सुनने की बजाय उन्हें नसीहत देते हुए कहा कि वे राजनीति न करें और पढ़ाई करें.

कलेक्टर इतने पर ही नहीं थमें उन्होंने बात करने आई छात्रा के मोबाइल नंबर मांगे और फिर उनके परिजनों के नंबर भी मांगे. इसके बाद उन्होंने वहां मौजूद एडीएम सिटी सुनीता पंकज को छात्राओं के पिता के मोबाइल नंबर नोट कर उनके पिता से बात करने के लिए कहा. वहीं जिला कलेक्टर की ये वीडियो अब सोशल मीडिया पर जमकर वायरल हो रही है. अलवर में नाबालिग

 मामला शुक्रवार का है जब राज्यसभा सांसद डॉक्टर किरोडी मीणा इसी मुद्दे पर जिला परिषद कार्यालय के बाहर धरने पर बैठे थे तब अंदर जिला कलेक्टर नंनुमल पहाड़िया को ज्ञापन देने कुछ महिलाओ को अंदर भेजा गया था. उनमे कुछ छत्राएं भी शामिल थीं. इस दौरान जब छात्राओ ने कलेक्टर साहब से अपनी सुरक्षा की मांग  ,पीड़िता के न्याय की मांग रखी तब कलेक्टर साहब ने एक-एक कर छात्राओं को अपनी टेबल के सामने बुलाया और धमकाया यहां पढ़ने आती हो या राजनीति करने , इस वीडियो को केंद्रीय मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत ने भी अपने ट्विटर पर पोस्ट किया है.

इस मामले में केंद्रीय जलशक्ति मंत्री गजेंद्र सिहं शेखावत ने एक के बाद एक कई ट्वीट कर प्रशासन और गहलोत सरकार पर निशाना साधा है. उन्होंने अपने ट्वीट में लिखा है, “अलवर में एक अबोध के साथ हुई दरिंदगी का विरोध करने आई बेटियों को वहां के कलेक्टर साहब धमरा रहे हैं.   अलवर में नाबालिग

गजेंद्र सिंह शेखावत ने अपने एक और ट्वीट में लिखा है, “ जिले में ला एंड आर्डर की जिम्मेदारी तो आपकी बनती है, उल्टे आपको इन बच्चियों को जवाब देना चाहिए कि इतना भयावह घटना कैसे हो गई? ये राजस्थान के प्रशासन का हाल है.  

शेखावत ने अपने एक और ट्वीट में लिखा है, “ कोई बड़ा अधिकारी इतने संवेदनशील मामले को दबाने की कोशिश तभी करेगा जब सरकार से आदेश मिला हो.  

बता दें कि सुरक्षा की मांग लेकर आई छात्राओं से जिला कलेक्टर के व्यवहार की वीडियो वायरल होने के बाद बीजेपी जमकर कांग्रेस सरकार पर निशाना साध रही है. जयपुर में पूर्व मंत्री राजेंद्र सिंह राठौड़ ने ऐसे दिला कलेक्टर को हटाने की मांग की है.  अलवर में नाबालिग

आप चूक गए होंगे