संगीत की दुनियां का बड़ा नाम एआर रहमान का जन्मदिवस आज

संगीत की दुनियां

संगीत की दुनियां

छाया सिंह: संगीत की दुनियां में अपनी अलग पहचान बनाने वाले एआर रहमान आज 55 वां जन्मदिन मना रहे हैं। 6 जनवरी 1967 को चेत्रई में जन्मे रहमान का असली नाम दिलीप कुमार था और हिंदू परिवार में जन्म हुआ था सोशल मीडिया पर पैंस उन्हें जन्मदिन की बधाई दे रहे हैं। रहमान ने अपनी रचनाओं से ना सिर्फ देश में बल्कि दुनिया में भी नाम कमाया और तिरंगे का मान बढ़ाया है। रहमान जब 9 साल के थे तभी उनके पिता का निधन हो गया था और परिवार की जिम्मेदारीयां उनके कंधे पर आ गईं। लेकिन रहमान ने हार नहीं मानी, कड़ी मेहनत की और ऑस्कर से लेकर ग्रैमी अवार्ड तक का सफर तय किया।
रहमान की जिन्दगी में विवाद तो कुछ खास नही रहे लेकिन 2015 में रिलीज हुई फिल्म पैंगबर द ऑफ गॉड को लेकर रहमान के खिलाफ फतवा जारी किया गया था। इसमें पैंगबर मोहम्मद साहब के चेहरा दिखाने को लेकर खूब विवाद हुआ था। फिल्म के निर्देशक माजीदी ने फिल्म का प्रभाव बढ़ाने के लिए इसका संगीत ऑस्कर अवार्ड विजेता भारतीय संगीतकार एआर रहमान से बनवाया था।
सुत्री मुस्लिम समुदाय ने संगीतकार एआर रहमान को फतवा जारी कर उनपर पैगंबर का मजाक बनाने का आरोप लगाया था। हालांकि रहमान ने इसका जवाब देते हुए कहा था कि उन्होंने कोई इस्लाम विरोधी कार्य नहीं किया है। रहमान ने कहा था कि मैं इस्लाम का विद्वान नहीं हूं। मैंने तो बस इस्लाम से प्रेम की वजह से उस फिल्म में संगीत दिया था। इस मामले में घसीटने का फतवा जारी करने का काई मतलब नहीं हैं।
इसी बीच विश्व हिन्दू परिषद ने एआर को रहमान को घर वापसी की सलाह दे डाली थी। आपको बता दें, साल 1984 अपनी बहन की तबीयत खराब होने के दौरान रहमान के परिवार की मुलाकात एक कादरी से हुई। उसके बाद बहन का ठीक होना और जुड़ाव इस कदर बढ़ा कि वर्ष 1989 में उनके परिवार ने इस्लाम धर्म अपना लिया और दिलीप कुमार बन गए आर रहमान। संगीत की दुनियां

आप चूक गए होंगे