छत्तीसगढ़ के सुकमा में सीआरपीएफ के जवान ने अपने ही साथियों को गोलियों से भूना, चार की मौत, तीन घायल

छत्तीसगढ़ के सुकमा में सीआरपीएफ के जवान ने अपने ही साथियों को गोलियों से भूना

छत्तीसगढ़ के सुकमा में सीआरपीएफ के जवान ने अपने ही साथियों को गोलियों से भूना( ani)

छत्तीसगढ़ के सुकमा में सीआरपीएफ के जवानों के बीच किसी बात को लेकर विवाद में एक जवान ने एके-47 से अपने ही साथियों पर गोलियां चला दी जिसमें सीआरपीएफ के चार जवानों की मौत हो गई, वहीं इस घटना में तीन अन्य जवान गंभीर रूप से घायल हो गए। घायलों को इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया है जहां पर एक जवान की हालत गंभीर बनी हुई है।

जानकारी के मुताबिक जिस जवान ने इस घटना को अंजाम दिया वह देर रात नक्सली इलाके में तैनात था। इसी दौरान जवानों के बीच किसी बात को लेकर विवाद हो गया और देखते ही देखते जो कि हिंसा में बदल गया। विवाद इतना बढ़ गया कि जवान ने अपना मानसिक संतुलन खो दिया और साथियों पर गोलीबारी शुरू कर दी। इस हिंसक घटना में सीआरपीएफ के चार जवानों की मौत हो गई।

बस्तर क्षेत्र के पुलिस महानिरीक्षक सुंदरराज पी ने बताया कि घटना 50 बटालियन कैंप की है, अभी साफ नहीं हो पाया है कि उसने यह क्यों किया, लेकिन प्रारंभिक जानकारी में जवानों के बीच विवाद की बात सामने आ रही है। आरोपी जवान रितेश रंजन को गिरफ्तार कर लिया है। जिससे पूछताछ जारी है। मारे गए जवानों में दो बिहार और एक पश्चिम बंगाल का रहने वाला था। बिहार के जवानों का नाम धांजी और राजमणि बताया जा रहा है। वहीं पश्चिम बंगाल के जवान का नाम राजीब मंडल बताया जा रहा है। वहीं जानकारी के मुताबिक चौथे जवान का नाम धर्मेंद्र था, लेकिन वह कहां का रहने वाला था यह पता नहीं चल सकता है। घायल जवानों के नाम धर्मेंद्र कुमार सिंह, धर्मात्मा कुमार और मालया रंजन महाराणा बताए गए हैं। बता दें इस तरह की घटना के पहली बार अंजाम नहीं दिया गया है। इससे पहले भी इसी साल जनवरी में छत्तीसगढ़ के ही बस्तर जिले में सीआरपीएफ जवान ने अपने साथियों पर गोली चला दी थी जिसमें एक जवान की मौत हो गई थी। उस समय यह बात सामने आई थी कि जिस जवान ने फायरिंग की थी वह मानसिक रूप से काफी दिनों से बीमार चल रहा था।

आप चूक गए होंगे