सर्दियों में एडियों के फटने से है परेशान तो अपनाए ये घरेलू नुस्खे

स्वास्थ्य विशेषज्ञ, एड़ी फटने का उपाय

स्वास्थ्य विशेषज्ञ, एड़ी फटने का उपाय

सर्दी के मौसम की शुरुआत होने से पहले एड़ियों के फटने की समस्या होने लगी है। अक्सर आपने देखा होगा कि अक्टूबर माह के समापन के वक्त हल्की सी ठंड महसूस होने लगती है। जिसकी वजह से लोगों को त्वचा संबंधी दिक्कतें बढ़ने लगती है। सवाल है कि आखिर सर्दियों में एड़ी फटने की समस्या क्यों अधिक होती है? विशेषज्ञों का मानना है कि वर्फीली ठंड से ब्लड का थक्का जमने लगता है। उसके कारण त्वचा संबंधी समस्याएं बढ़ने लगती है। इससे छुटकारा पाने के लिए व्यक्ति अनेक प्रकार की क्रीम औऱ लोशन का प्रयोग करता है। इससे होता ये है कि कुछ समय हमारी एड़ियां साफ दिखने लगेंगी लेकिन बाद में ज्यों की त्यों हो जाएगी।

होम्योपैथिक के मुताबिक, त्वचा संबंधी समस्याओं के लिए देसी उपचार अधिक लाभदायक होता है। चिकित्सकों ने बताया कि सर्दी के मौसम में पैरों की देखभाल करने के साथ साफ सफाई पर ध्यान देने की जरूरत है। ठंडे मौसम में शरीर का मैल भी जाम हो जाता है। जिसके बाद त्वचा ड्राई होकर फटने लगती है। एडियों में दरारों के पड़ने से असहनीय दर्द की समस्या भी उत्पन्न हो जाती है। इतना ही नहीं दर्द के कारण चलना भी दूभर हो जाता है। किसी-किसी व्यक्ति की एड़ी में पस भी पड़ जाता है। ऐसी समस्याओं से छुटकारा पाने के लिए आसान घरेलू उपचार का प्रयोग करें।

आखिर क्यों फटती है सर्दियों में एड़ियां?

शरीर में मिनरल्स, विटामिन और अन्य पोषक तत्वों की कमी के कारण समस्या होती है। तलवों की हद से अधिक ड्राई रहना भी नुकसान दायक होता है। नहानें में रोज गर्म पानी का इस्तोमाल करना भी त्वचा के लिए हानिकारक होता है। थायरॉइड से ग्रस्त लोगों को भी इस समस्या से गुजरना पड़ता है। खान-पान भी एड़ी फटने की बड़ी वजह है। सर्दियों में ड्राई फूड्स के साथ शुद्ध भोजन शामिल न करने से समस्या उत्पन्न होती है। पानी व तरल पदार्थ का सेवन भरपूर मात्रा में न होने से त्वचा में दिक्कत होने लगती है।

उपचार में शामिल करें ये चीजें

एड़ी फटने की समस्या से छुटकारा पाने के लिए एलोवेरा जेल से मालिश करें। इसके अलावा केला खाने के बाद छिलकों को गुद्दे की तरफ से तलवों में मलिए। 10-15 मिनट के लिए यू हीं लगा छोड़ दीजिए। ग्लिसरीन को एक चम्मच में लें औऱ उसमें आधा चम्मच गुलाब जल डालने के बाद फटी एड़ियों में मालिश करें। शहद भी एड़ियों के साथ त्वचा से जुड़ी अन्य बीमारियों के लिए लाभदायक मानी जाती है। नींम की शहद मिल जाए तो अधिक लाभकारी होती है। शहद से एडियों की दरारों में मालिश करने से राहत मिलती है। नींम और हल्दी का पेस्ट भी इस समस्या का सही उपचार है। नींबू पानी में 10 मिनट पैरों को डुबों दें उसके बाद बाहर निकालें ऐसा करने से पैर मुलायम होंगे। साथ ही इस समस्या से निजात मिलेगी।

आप चूक गए होंगे