सर्दियों में कैसे डाले हरी मिर्च का अचार……

मिर्च का अचार

मिर्च का अचार

अंकित कुमार तिवारी। भारत में सबसे ज्यादा खाया जाने वाला अचार है। अचार किसी भी खाने के स्वाद को और भी बढ़ा देता है। अचार के बिना आप छोले-भटूरे की कल्पना भी नहीं कर सकते। सर्दियों में डाले या बनाये जाने वाले अचार में मिर्च का अचार, निम्बू का अचार, गोभी का अचार, मूली का अचार, शलगम का अचार और अदरक का अचार प्रमुख है। सर्दियों में डाले जाने वाला मोटी मिर्च का अचार जो की कुछ खास मसालों के साथ सरसों के तेल को मिलाकर बनाया जाता है कुछ लोग तेल की जगह सिरका (Vinegar) का भी प्रयोग करते हैं हरी मिर्च के भरवां अचार को नवंबर से जनवरी के महीने में डाला जाता है, क्योंकि बाजार में मोटी बड़ी हरी मिर्च इन्ही महीनों में मिलती है जबकि पतली तीखी हरी मिर्च का अचार पूरे वर्ष में कभी-भी डाला जा सकता है।
हरी मिर्च के आचार का प्रयोग आलू, गोभी या मूली के पराठों के साथ अधिक किया जाता है।
आज हम आपको मोटी हरी मिर्च के साथ पतली तीखी हरी मिर्च और मोटी मिर्च का अचार डालने की विधि । जिसमें आपको अचार की सामग्री बनाने का तरीका, टिप्स और अचार को रखने की जानकारी मिलेगी।
तैयारी का समय : 5 मिनट
बनाने का समय : 15 मिनट
कुल समय : 20 मिनट
हरी मिर्च का अचार बनाने की विधि

  1. हरी मिर्च को अच्छी तरह धो लीजिये उसके बाद एक या दो दिन धूप में रखकर सुखाइये फिर साफ कपड़े से पोंछ कर उनका डंठल हटाना चाहें तो हटा दीजिये।
  2. दूसरी तरफ राई और सौंफ को भी धुप में सुखा लें ताकि इनकी नमी दूर हो जाये और इन्हे पीसने में आसानी रहे।
  3. हरी मिर्च को लम्बाई में ऊपर से नीचे की ओर इस तरह चीरा लगाइये की मिर्च दूसरी तरफ से जुडी रहे।
  4. राई और सौंफ को मिक्सी या सिल बट्टे की सहायता से हल्का दरदरा पीस लीजिये।
  5. सरसों के तेल को खूब गर्म करकर बिलकुल ठंडा कर लीजिये इससे तेल की नमी और अशुद्धियाँ समाप्त हो जाएंगी।
  6. अब दरदरे किये हुए राई और सौंफ में हल्दी, नमक के साथ सरसों का तेल मिला लीजिए।
  7. तेल मिले हुए मसाले को एक- एक मिर्च में भर कर रखते जाइये। सारी मिर्चें इसी तरह भरकर साफ़ और सूखे डिब्बे में स्टोर कर लीजिए।
  8. बचा हुआ तेल मिर्च के अचार के ऊपर डाल दीजिये अब आपका मिर्च का अचार बनकर तैयार है। 4-5 घंटे बाद आप इसे खा सकते हैं।

About Post Author