गौतम अडानी ने सीमेंट के क्षेत्र में जमाए पांव, सीमेंट उत्पादन के मामले में देश में दूसरा स्थान

देश

देश

अनुराग दुबेः अडानी ग्रुप अक्सर देश में चर्चा का विषय बना रहता है। इस समय यह समूह प्रत्येक बडे-बडे सेक्टरों में इनवेश्ट कर रहा है। एक समय था जब मुकेश अंबानी भारत के सबसे सफलतम उद्योगपतियों की लिस्ट में पहले स्थान पर थे। लेकिन समय के साथ देश में कई ऐसे बिजनेसमेन उभरकर आए जिन्होंने ने मुकेश अंबानी सहित कई लोगों को चुनौती दी। इस में एक नाम पिछले किई साल से चर्चाओं में बना हुआ है वह है अड़ानी ग्रुप के गौतम अड़ानी। अडानी ने अलग- अलग सेक्टरों में निवेश करने के बाद सीमेंट के कारोबार में अपना हाथ डाल दिया है।

रविवार को अडानी ग्रुप देश में सीमेंट उत्पादन के मामले में एक झटके में दूसरे नंबर पर आ गया है। अडानी ने व्यापार में वृद्धि करते हुए स्विट्जरलैंड के होल्सिम नामक समूह से अंबुजा और एसीसी सीमेंट कंपनियों को खरीदा लिया है। यह व्यापारिक सौदा 10.5 अरब डॉलर यानी करीब 82,000 करोड़ रुपये में हुआ है। अडानी अब सीमेंट के व्यापार में नंबर वन बनना चाहते हैं। इसलिए वह सीमेंट के व्यापार में इतना बडा निवेश किया है।
अडानी-होल्सिम समूह के बीच का यह डील देश के इतिहास में इंफ्रास्ट्रक्चर और मैटेरियल सेक्टर में अब तक की सबसे बड़ा डील है। इस ऐतिहासिक डील के साथ बंदरगाह से लेकर एनर्जी के क्षेत्र में अपनी बादशाहत कायम रखने वाले अडानी समूह का सीमेंट के क्षेत्र में भी प्रवेश हो गया है। बता दें कि होल्सिम और उसकी सब्सिडियरी कंपनियों के पास अंबुजा सीमेंट में 63.19 फीसदी और एसीसी में 54.53 फीसदी हिस्सेदारी है। अडानी ने दोनों कंपनियों में होल्सिम की हिस्सेदारी के लिए ये बड़ा सौदा किया है। लेकिन भारत में सीमेंट के क्षेत्र में अल्ट्राटेक सीमेंट सबसे आगे है। साथ ही अडानी का होल्सिम निवेश वाला सीमेंट दूसरे पायदान पर है। इस ऐतिहासिक सौदे के बाद अडानी समूह देश में सीमेंट कारोबार करने में दूसरे स्थान पर आ गया है।