नाग पंचमी के दिन करें यह उपाय

नाग पंचमी

नाग पंचमी

अनुराग दुबे : सावन मास की शुक्ल पक्ष की पंचमी तिथि आज है। आज यानि 2 अगस्त मंगलवार को नागपंचमी का पर्व मनाया जा रहा है। नाग पंचमी हिंदू धर्म का पावन पर्व है। नाग पंचमी के दिन नाग देवता की पूरे विधि-विधान से पूजा की जाती है। इस बार ये त्योहार 02 अगस्त, मंगलवार को मनाया जाएगा। मान्यता है नाग पंचमी के दिन नाग देवता की पूजा करने से सभी मनोकामनाएं जरूर पूरी होती हैं। पौराणिक काल से ही सांपों को देवताओं की तरह पूजा जाता है। मान्यता है नाग पंचमी के दिन नाग देवता की पूजा करने से सभी मनोकामनाएं पूरी हो जाती हैं। साथ ही पंचमी के अवसर पर की जाने वाली पूजा से राहु-केतु के बुरे प्रभाव एवं कालसर्प दोष से मुक्ति मिलती है। इस दिन कुछ विशेष उपाय करने से शुभ फलों की प्राप्ति होती है।

नाग पंचमी के दिन अगर संभव हो तो किसी ऐसे शिव मंदिर में जहां शिव जी की मूर्ति पर नाग नहीं हो वहां प्रतिष्ठित करवाएं। मान्यता है कि इस उपाय को करने से आपको नाग देवता का आशीर्वाद प्राप्त होगा। नाग देवता के साथ भगवान शिव का आशीर्वाद प्राप्त करने के लिए नाग पंचमी के दिन चंदन की लकड़ी के बने 7 मौली शिव मंदिर में चढ़ाएं। साथ ही इस दिन शिवजी को चंदन की लकड़ी या चंदन का इत्र चढ़ाएं और नित्य स्वयं लगाएं।

पंचमी के दिन किसी शिव मंदिर में साफ-सफाई जरूर करें। साथ ही संभव हो तो शिव मंदिर में किसी तरह का नवनिर्माण करा सकते हैं या फिर मंदिर की मरम्मत या उसकी पुताई आदि का भी कार्य करा सकते हैं। साथ ही पंचमी के दिन भगवान भोलेनाथ को प्रसन्न करने के लिए शिवलिंग पर विजया, अर्क पुष्प, धतूरा पुष्प, फल चढ़ाएं तथा दूध से रुद्राभिषेक करवाएं। इससे महादेव की कृपा प्राप्त होगी।

About Post Author

आप चूक गए होंगे