दिल्ली के स्कूलों में पढ़ाया जाएगा गीता का पाठ, स्कूल खुलने तक ऑनलाइन होंगी क्लास-

गीता

गीता


छाया सिंह: दक्षिण दिल्ली नगर निगम ने इस्कॉन टेंपल से बच्चों को गीता का पाठ पढ़ाने के लिए सरकार से पूछा है कि उनके पास कितना स्टाफ है और वह कितने विद्यालय में एक साथ गीता का पाठ पढ़ाने की प्रक्रिया को शुरु कर सकते हैं. निगम में कुछ 568 स्कूल हैं.
बच्चों को भारतीय संस्कृति से परिचित कराने के मकसद से दिल्ली नगर निगम अब बच्चों को गीता का पाठ पढ़ाएगी. नगर निगम शिक्षा समिति की अध्यक्षा नीतिका शर्मा ने कहा कि दिसंबर के आखिरी हफ्ते में बच्चों को महीने में हर दो शनिवार गीता का पाठ पढ़ाया जाएगा. निगम के प्राथमिक विद्यालयों ने इस्कॉन टेंपल के साथ करार भी कर लिया है.
नीतिका ने कहा कि दक्षिणी नगर के बजट सत्र में विभाग के द्वारा एक पेश प्रस्ताव को बजट में शामिल कर लिया है. निगम ने बाकायदा इस्कॉन टेपंल से बच्चों को गीता का पाठ पढ़ाने की प्रकिया को शुरु कर सकतें हैं. निगम में कुछ 568 स्कूल हैं. दिल्ली में ऑमिक्रॉन की बढ़ती संख्या के बीच जब तक स्कूल पूरी तरह से नही खुल जाते तब तक गीता पाठ ऑनलान ही होगी.
पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी बाजपेयी के जन्मदिन के अवसर 25 दिसंबर से इसकी शुरुवात की जायेगी. द्रारका के सेक्टर-3 सें एक स्कूल का नाम CDS बिपिन रावत के नाम पर रखने और शहीदों की जीवन गाथोओं को भी पाठय्क्रम में शामिल करने का प्रस्ताव है जिससे छात्रो में देशभक्ति की भावना पैदा की जा सके. बता दें कि कोरोनाकाल में प्राइवेट स्कूलों के बंद होने से बहुत से बच्चे सरकारी निगम स्कूलों निगम में शिफ्ट हो गए हैं. यही वजह है कि दक्षिणी दिल्ली नगर के हर वार्ड में इंग्लिश मीडियम स्कूल खल रहा है.