अगले दस दिनों में विपक्ष का संयुक्त राष्ट्रपति उम्मीदवार का नाम होगा घोषित

राष्ट्रपति

राष्ट्रपति

इस साल राष्ट्रपति रामनाथ कोविन्द का कार्यकाल पुरा हो रहा है। तमाम राजनीतिक पार्टीयां अपने राष्ट्रपति उम्मीदवार की चयन कर रही हैं। बुधवार को कॉन्स्टिट्यूशन क्लब में होने वाली विपक्षी दलों की अहम बैठक राष्ट्रपति चुनाव के मद्देनजर सबसे महत्वपूर्ण मानी जा रही है। प्रमुख विपक्षी दलों से जुड़े नेताओं के मुताबिक योजना यही है कि सभी दल एकजुट होकर आम राय बनाएं और अगले 10 दिनों के भीतर राष्ट्रपति पद के प्रत्याशी को घोषित कर दें। इसके लिए बाकायदा ममता बनर्जी और सोनिया गांधी समेत तमाम विपक्षी दल पहले से ही एकजुट होकर एक राय बनाने में लगे हुए हैं। कई नेताओं की इस संबंध में कई दौर की वार्ता भी हो चुकी है।

सूत्रों की माने तो हाल के दिनों में निर्दलीय प्रत्याशी के तौर पर राज्यसभा पहुंचे देश के एक एक प्रमुख वरिष्ठ नेता भी इस पूरे मामले में सब को एकजुट करने जुटे हुए हैं।  हालांकि अभी इस बात को लेकर कुछ भी तय नहीं हुआ है कि क्या सभी दल एक राय होंगे या नहीं। लेकिन इस पूरे मामले में सभी दलों का रुख सकारात्मक नजर आ रहा है। ऐसे में सूत्रों की माने तो बुधवार को होने वाली महा बैठक के बाद अगले 10 दिनों के भीतर राष्ट्रपति का उम्मीदवार विपक्षी दलों की ओर से सामूहिक तौर पर घोषित किया जा सकता है। हालांकि इसके लिए अलग-अलग दलों के कुछ प्रमुख संभावित चेहरों की भी चर्चा हो रही है। लेकिन इन सब पर बुधवार को होने वाली बैठक के बाद बनने वाली आम राय ही महत्वपूर्ण मानी जाएगी।