मुबंई इंडियंस को खली कप्तान रोहित शर्मा की कमी, चेन्नई से मिली करारी शिकस्त

आइपीएल 2021 के दूसरे चरण का पहला मैच मुबंई इंडियंस और चेन्नई सुपर किंग्स के बीच खेला गया। मुंबई इंडियंस की तरफ से कप्तानी करने कायरान पोलार्ड आए। पहले मैच में चेन्नई के खिलाफ अनफिट रोहित शर्मा मैदान पर नजर नहीं आए। पहले मैच में चेन्नई ने मुबंई को 20 रन से हरा दिया। इसी जीत के साथ चेन्नई अंक तालिका में शीर्ष पर पहुंच गई है। चेन्नई ने 8 मैचों में से 6 में जीत हांसिल की है। इस हार के बावजूद भी रोहित की टीम टॉप-4 में बरकरार है।
धोनी ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने का किया। सीएसके ने 20 ओवर में 6 विकेट खोकर 156 रन बनाए। चेन्नई की तरफ से ओपनिंग बल्लेबाजी करने आए फाफ डू प्लेसिस बिना खाता खोले ही पवेलियन लौट गए। उनको पहले ही ओवर में ट्रेंट बोल्ट ने चलता किया। वहीं दूसरी तरफ ऋतुराज गायकवाड़ ने यूएई में लगातार चौथा अर्धशतक लगाया। इन्होंने बल्लेबाजी करते हुए 58 गेंदो में नाबाद 88 रन की बेहतरीन पारी खेली। आइपीएल में इनका छठा अर्धशतक था। फाफ डू प्लेसिस के आउट होने के बाद बल्लेबाजी करने आए मोइन अली भी सस्ते में आउट हो गए। इनको दूसरे ओवर में मिल्ने ने सौरभ तिवारी के हाथों कैच कराया। इसी ओवर में अंबाती रायुडू भी रिटायर्ड हर्ट होकर ड्रेसिंग रूम में लौट गए। चेन्नई के विकेट पावरप्ले में पतझड़ की तरह झड़ते चले गए।
तीसरे ओवर में बल्लेबाजी करने आए सुरेश रैना भी ज्यादा कुछ कमाल नहीं कर सके। रैना सिर्फ 4 रन बनाकर बोल्ट हो गए। चेन्नई के कप्तान धोनी बड़ी पारी खेलने में नाकाम रहे। मिल्ने ने कप्तान धोनी को आउट करके मुबंई को चौथी सफलता दिला दी। सीएसके ने पावरप्ले में 4 विकेट के नुकसान पर 24 रन ही बनाए थे। पिछली 10 पारियों में धोनी एक भी अर्धशतक नहीं लगा पाए हैं। रविंद्र जाडेजा ने 26 रन की उपयोगी पारी खेली। गायकवाड़ और जाडेजा ने पांचवे विकेट के लिए 64 गेंदों पर 81 रन की अहम साझेदारी की, जिससे चेन्नई मैच में वापसी कर सकी। जाडेजा के आउट होने के बाद बल्लेबाजी करने आए ब्राबो ने ताबड़तोड़ 23 रन बनाए। उन्होंने 8 गेंदो में ही 23 रन बना डाले, जिसमें 3 छक्के शामिल हें। अंतिम पांच ओवर में सीएसके ने दो विकेट के नुकसान पर 69 रन बनाए। मुंबई के तरफ से बोल्ट, बुमराह और मिल्ने ने दो-दो विकेट लिए।
लक्ष्य का पीछा करने उतरी मुबंई इंडियंस की शुरूआत अच्छी नहीं रही। कप्तान रोहित की जगह बल्लेबाजी करने आए डेब्यू प्लेयर अनमोलप्रीत सिंह 16 रन बनाकर आउट हो गए। बाएं हाथ के बल्लेबाज डी कॉक ने 17 रन बनाए। दोनों सलामी बल्लेबाज को दीपक चहर ने चलता किया। तीसरे नबंर पर खेलने आए सूर्यकुमार यादव(3) भी सस्ते में आउट हो गए। उसके बाद इशान किशन को भी 11 रन के निजी स्कोर पर ब्रावो ने चलता किया। मुबंई के तरफ से सर्वश्रेष्ठ स्कोरर सौरभ तिवारी रहे। जिन्होंने 40 गेंदों में नाबाद 50 रन बनाए। कप्तान कीरोन पोलार्ड से बड़ी पारी की उम्मीद थी,पर वे ज्यादा देर तक क्रीज पर नहीं टिक सके। इनको जोश हेजलवुड ने 15 रन के स्कोर पर पगबाधा आउट किया। एडम मिल्ने ने भी 15 रन की उपयोगी पारी खेली। चेन्नई के तरफ से ड्वेन ब्रावो सर्वाधिक 3 विकेट लिए।
चेन्नई के खिलाफ खेलने उतरे मुबंई के तेज गेंदबाज जसप्रीत बुमराह ने आइपीएल का 100वां मुकाबला खेला। बुमराह टूर्नामेंट के 45वें खिलाड़ी हैं,जिन्होंने यह उपलब्धि हासिल की है। इसके साथ ही बुमराह ने मुंबई इंडियंस की तरफ से 100 मैच खेलने वाले छठे खिलाड़ी बन गए हैं। इनसे पहले यह उपलब्धि कीरोन पोलार्ड (194), रोहित शर्मा (171), हरभजन सिंह (158), लसिथ मलिंगा (139), अंबाती रायडू (136) ने हासिल की हैं। मुबंई की हार की सबसे बड़ी वजह इनके दो प्रमुख खिलाड़ी कप्तान रोहित शर्मा और ऑलराउंडर हार्दिक पाड्या की गैर मौजूदगी रही।

About Post Author

Leave a Reply

Your email address will not be published.

आप चूक गए होंगे