ओमिक्रॉन

ओमिक्रॉन

फाइजर इंक के चीफ एग्जिक्‍यूटिव एल्‍बर्ट बोर्ला का कहना है कि कंपनी कोरोना वायरस के नए वैरिएंट ओमिक्रॉन को देखते हुए अपनी वैक्‍सीन को रीडीजाइन कर रही है। कंपनी को उम्‍मीद है कि ये नई वैक्‍सीन इस नए वैरिएंट पर कारगर साबित होगी। एल्‍बर्ट के मुताबिक इस वर्ष मार्च तक ये नई वैक्‍सीन लान्‍च कर दी जाएगी। बता दें कि महामारी शुरू होने के बाद से अमेरिका में लगातार कोरोना के रिकार्ड टूट रहे हैं। ओमिक्रॉन

एल्‍बर्ट के मुताबिक फाइजर के अलावा इस काम में उनकी सहयोगी कंंपनी बायोएनटेक एसई भी लगी हुई है। दोनों कंपनियां एक ऐसी वैक्‍सीन को विकसित करने में लगी हैं जो ओमिक्रोन वैरिएंट पर पूरी तरह से कारगर हो, जिससे वैरिएंट के संक्रमण की रफ्तार को कम किया जा सके। एल्‍बर्ट ने इसका एलान जेपी मार्गन की सालाना हेल्‍थ केयर कांफ्रेंस में किया। पिछले वर्ष इस कांफ्रेंस को वर्चुअल तरीके से किया गया था। 

 दुनिया का पॉवर फुल देश अमेरिका में सबसे अधिक मामले दर्ज किए गए संख्या 10 लाख है।  जो कि एक ऐसा तब हो रहा है जब अमेरिका में सबसे पहले वैक्‍सीनेशन शुरू हुआ था और बूस्‍टर डोज समेत बच्‍चो की वैक्‍सीन भी लगाई जा रही है। ऐसे में मामलों का इस कदर बढ़ना चिंता का सबब बना हुआ है। ओमिक्रॉन

एल्‍बर्ट ने इस कांफ्रेंस के दौरान ये भी बताया कि वो वैक्‍सीन की हायर डोज पर भी काम कर रहे हैं। इसके अलावा भी कई दूसरी चीजों पर काम चल रहा है। उनके मुताबिक फाइजर अपनी नई वैक्‍सीन को लेकर काफी उत्‍साहित है और जल्‍द ही इसको यूएस रेगुलेरर्स से एप्रूवल के लिए आगे करेगा। इसके बाद उम्‍मीद है कि मार्च तक ये लान्‍च कर दी जाएगी। एल्‍बर्ट ने बताया कि फाइजर के पास इस वैक्‍सीन के उत्‍पादन के लिए पूरी क्षमता है। इसलिए इसको बड़ी मात्रा में तैयार करने में कोई दिक्‍कत नहीं आएगी। ओमिक्रॉन

आप चूक गए होंगे