मध्यप्रदेश के मजदूरों को लेकर महाराष्ट्र की स्पेशल ट्रेन पहुंची भोपाल, जय-जय कार के साथ किया प्रस्थान

संपदा, आईआईएमटी न्यूज डेस्क, ग्रेटर नोएडा



लॉकडाउन के कारण महाराष्ट्र में फंसे हुए मध्यप्रदेश के 1050 से भी अधिक लोगों को एक स्पेशल ट्रेन द्वारा नासिक से मध्यप्रदेश पहुंचाया गया। ट्रेन जैसे ही प्लैटफॉर्म से छूटी यात्रियों ने भारत माता और श्री राम का जय-जय कार करना शुरु कर दिया।
जिला प्रशासन के एक अधिकरी का कहना था कि यह नॉन-स्टॉप विशेष ट्रेन बृहस्पतिवार को रात 8 बजे नासिक से रवाना हुई और शनिवार को सुबह भोपाल के बाहरी क्षेत्र में स्थित मिसरोद रेलवे स्टेशन पर पहुंची है। नासिक से लाए गए इस यात्रियों की जांच भी शुरु कर दी गई है। जांच होने के बाद इन्हें अलग-अलग बसों से उनके जिलों में भेजा जाएगा।
लॉकडाउन के बाद यह पहली एसी विशेष ट्रेन हे जो मध्यप्रदेश के लोगों को लेकर यहां पहुंची है। अधिकारी ने यह जानकारी दी है कि इस विशेष ट्रेन से लगभग 1050 श्रमिकों को महाराष्ट्र से लाया गया है। यह लोग मध्यप्रदेश के इन्दौर, देवास, झाबुआ जैसे कई विभिन्न जिलों के रहने वाले है। इन श्रमिकों को 15 बसों द्वारा भोपाल से इनके अलग-अलग जिलों में भेजा जाएगा। मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने शुक्रवार को कहा कि विभिन्न प्रदेसों में फंसे मध्यप्रदेश के एक लाख से भी अधिक मजदूरों को ट्रेन के माद्यम से उन्हें मध्यप्रदेश वापस लाया जाएगा।
अपर मुक्य सचिव केशरी से यह मालूम पड़ा कि मध्यप्रदेश के एक लाख से अधिक मजदूर अलग-लग राज्यों में फंसे हुए हैं। उनका कहना था कि 50,000 मजदूर महाराष्ट्र में, 30,000 मजदूर गुजरात में, 8000 मजदूर तमिलनाडु में, 5000 मजदूर कर्नाटक में, 10,000 मजदूर आंध्रप्रदेश में और 3000 मजदूर गोवा में फंसे हुए हैं।