राज्यों को रैपिड टेस्ट के दौरान कोरोना के मरीजों को नियमों का पालन कराना जरुरी

आईआईएमटी न्यूज डेस्क, ग्रेटर नोएडा



शालिनी शिखा

देश में अब लाखों की संख्या में रैपिड जाँच किट्स आ चुकी हैं। कोरोना वायरस की जांच अब रैपिड टेस्ट किट्स के द्वारा होगी । शनिवार को 22 राज्यों के 170 जिलों में 6 लाख जांच किट्स का वितरण किया जा रहा है। केंद्र सरकार ने सख्ती दिखाते हुए सभी मुख्य सचिव को आदेश जारी किया है। जांच का एक-एक डॉटा केंद्र को भेजा जाए। साथ ही केंद्र ने यह भी कहा कि जांच होने के बाद राज्यों को अपनी जांच रिपोर्ट आईसीएमआर को देनी होगी। राज्यों को इस बात का हमेशा ध्यान रखना होगा कि रैपिड जांच डॉक्टरों की निगरानी में होनी चाहिए।अगर किसी व्यक्ति में रैपिड जांच के दौरान कोरोना बीमारी के लक्षण दिखते हैं तो मरीज को तुरंत अस्पताल में भर्ती कराना होगा। कोरोना मरीज को सोशल डेस्टटेंसिंग, मास्क का प्रयोग, हाथों की सफाई और गैर जरुरी यात्रा पर रोक सहित कई नियमों का पालन कराना होगा।