केजीएमयू अस्पताल में कोरोना मरीज को जनरल वॉर्ड में भर्ती किया, दिए जांच के आदेश

अनु सिंह, आईआईएमटी न्यूज डेस्क, ग्रेटर नोएडा



लखनऊ के केजीएमयू ट्रॉमा सेंटर में बड़ी लापरवाही आई सामने। पिछले शनिवार को कैजुअल्टी वॉर्ड में कोरोना पॉजिटिव मरीज को भर्ती कर दिया गया। जानकारी के मुताबिक उस मरीज को वहां के एक डॉक्टर की सिफारिश पर भर्ती किया गया था, मरीज की रिपोर्ट आते ही अस्पताल में अफरा-तफरी मच गई। उस बुजुर्ग मरीज के संपर्क में आए सभी 13 रेजिडेंट डॉक्टरों और 52 चिकित्साकर्मियों को 14 दिन के लिए क्वारंटीन कर दिया गया है। इस गलती के कारण केजीएमयू के ट्रॉमा सेंटर में मरीज भर्ती करने की सभी नियमों को बदल दिया गया है। वहीं दूसरी मंजिल पर स्थित दवाई विभाग को पूरी तरह से सील कर दिया गया है, कैजुअल्टी वार्ड को पूरी तरह से आइसोलेट किया जा रहा है। अनुमान है कि उस बुजुर्ग मरीज के संपर्क में आने वाले करीब 100 लोग संक्रमित हो सकते हैं। उस बुजुर्ग मरीज को उसके परिवार वाले लेकर आए थे। मरीज की सांस फूल रही थी और उसे बुखार भी था। उसकी हालत देख कर वहां के रेजिडेंट ने देखने से मना कर दिया था। उसे फीवर क्लीनिक में ले जाने की सलाह दी गई। इसी बीच केजीएमयू के एक बड़े डॉक्टर ने फोन करके उस मरीज को वहां भर्ती करने के लिए कहा। डॉक्टर के कहने पर मरीज को कैजुअल्टी वॉर्ड में ले जाया गया, जहां करीब 2 घंटे बाद उसे मेडिसिन विभाग में भेज दिया गया। अगले दिन सुबह के समय मरीज के सांस फूलने के साथ ही कोरोना के कई अन्य लक्षण भी आने लगे।