लॉकडाउन में निजी सुरक्षा उपकरण के उत्पादन पर असर, वायुसेना ने कच्चा माल पहुंचाकर की मदद

अनन्या सिंह, आईआईएमटी न्यूज, ग्रेटर नोएडा



वैश्वविक महामारी कोरोना वायरस के संक्रमण से बचने के लिए पूरे देश में लॉकडाउन लागू है। ऐसे में देश के कई हिस्सों में सामान पहुंचाने में मुश्किल हो रही है। संकट की इस घड़ी में भारतीय वायुसेना ने भी मदद का हाथ बढ़ाया है। वायुसेना ने ‘हर काम देश के नाम’ नाम से पहल की शुरुआत है। इसी के चलते वायुसेना के द्वारा 3 टन कच्चा माल मुंबई से बंगलूरु पहुंचाया है।लॉकडाउन के कारण निजी सुरक्षा उपकरण (पीपीई) के उत्पादन के लिए कच्चा माल नहीं पहुंच पा रहा है इसीलिए वायुसेना ने बंगलूरू तक सामान पहुँचाकर उत्पादन शुरु करने में मदद की। इस काम में रक्षा अनुसंधान और विकास संगठन (डीआरडीओ) ने भी पूरा सहयोग किया। कोरोना के खिलाफ इस लड़ाई में वायुसेना हर संभव मदद कर रही है। वायुसेना का कहना है कि हम हालात के अनुसार ही कदम उठा रहे हैं। इसके लिए मंत्रालयों और संबंधित विभिन्न विभागों के साथ वायुसेना बराबर संपर्क में है। इस संकट की घड़ी में देश में आपदा प्रबंधन सेल का भी गठन किया गया है, जिसमें देश के कई मालवाहक विमान और हेलिकॉप्टर भी शामिल किए गए हैं, ताकि देश के किसी भी हिस्से में ज़रुरी समानों की आपूर्ति होती रहे।