ऐलोपैथी के बाद ज्योतिष विद्या पर रामदेव का प्रहार, कहा- ज्योतिषी काल, घड़ी, मुहूर्त के नाम पर बहकाते हैं

आईआईएमटी न्यूज डेस्क, ग्रेटर नोएडा



योग गुरु स्वामी रामदेव अक्सर विवादों से घिरे रहते हैं। इसका कारण उनके उट-पटांग बयान होते हैं। एक बार फिर बाबा रामदेव ने ज्योतिष विद्या पर ऊंगली उठाते हुए तंज कसा है। उन्होंने ज्योतिषियों पर काल, घड़ी, मुहूर्त के नाम पर बहकाने का आरोप लगाया है। दरअसल, स्वामी रामदेव एक योग शिविर में योग साधकों को संबोधित कर रहे थे। इस दौरान उन्होंने ज्योतिष विषय पर कहा, सारे मुहूर्त भगवान ने बना रखे हैं। ज्योतिषी काल, घड़ी, मुहूर्त के नाम पर बहकाते रहते हैं। यह भी पूरे एक लाख करोड़ की इंडस्ट्री है। बैठे-बैठे ही किस्मत बताते हैं। उन्होंने नोटबंदी का उदाहरण देते हुए कहा, जब मोदी जी ने पांच सौ और एक हजार के नोट बंद किए तो किसी को पता नहीं चला। किसी ज्योतिषी ने यह भी नहीं बताया कि कोरोना आने वाला है। किसी ने नहीं बताया कि इसके बाद ब्लैक फंगस भी आने वाला है। उन्होंने आगे कहा, किसी ने यह नहीं बताया कि कोरोना का समाधान बाबा रामदेव कोरोनिल से देने वाले हैं।
गौरतलब है, इससे पहले भी बाबा रामदेव ऐलोपैथी पर की गई अपनी टिप्पणी के कारण विवाद में रहे हैं। जिसके चलते आईएमए उत्तराखंड ने उन्हें एक हजार करोंड़ का मानहानि का नोटिस भेजा था। साथ ही आईएमए ने प्रधानमंत्री मोदी को चिद्ठी लिखकर रामदेव के खिलाफ देशद्रोह का मुकदमा लगाने की मांग की थी।