अमेरिका के हमले से तलिबानियों में आक्रोश

काजल शर्मा, आईआईएमटी न्यूज़ डेस्क, ग्रेटर नोएडा



हाल ही में अमेरिका ने अफगानिस्तान में तालिबानियों के ठिकानों पर ड्रोन से हमला किया था जिसमें आईएसआईएस का मास्टरमाइंड मारा गया था। अमेरिका के इस कदम से तालिबानियों में आक्रोश बढ़ गया है। जिसके बाद तालिबानियों ने अमेरिका पर अपना गुस्सा जाहिर करते हुए कहा है कि अमेरिका ने जानबूझकर काबुल एयरपोर्ट पर मौजूद विमानों और अन्य वाहनों को नष्ट किया है। तालिबान ने आगे कहा है कि ये सब कुछ बदनियत की वजह से किया गया है। आरियाना न्यूज के हवाले से एजेंसी ने बताया कि अमेरिकी वायु सेना के आखिरी विमान के काबुल से उड़ान भरने के बाद तालिबानी आतंकियों ने काबुल एयरपोर्ट पर अपना कब्जा कर लिया है।
बता दें कि अमेरिका जब अफगानिस्तान को छोड़कर गया तो वह हजारों की संख्या में वाहन, बंद गाड़ियां, हथियार काबुल में ही छोड़ गया था लेकिन जाने से पहले उसने काबुल एयरपोर्ट पर मौजूद वाहनों को बर्बाद कर दिया था। यही हाल उसने विमानों का किया। जाने से पहले विमानों को उड़ान भरने के काबिल नहीं छोड़ा गया। हेलिकॉप्टर्स के न सिर्फ बाहरी शीशे को तोड़ दिया गया, बल्कि उन्हें तकनीकी रूप से भी निष्क्रिय कर दिया गया। अमेरिका ने जाने से पहले अपने अत्याधुनिक रॉकेट डिफेंस सिस्टम को भी पूरी तरह नष्ट कर दिया था।