सबूतों के अभाव में विकास दुबे एनकाउंटर केस में यूपी पुलिस को मिली क्लीन चिट

आईआईएमटी न्यूज डेस्क, ग्रेटर नोएडा...



गैंग्सटर विकास दुबे के एनकाउंटर मामले में तीन सदस्यीय कमेटी ने यूपी पुलिस को क्लीन चिट दे दी है। बुधवार को कमेटी ने य़ह जानकारी देते हुए बताया कि उन्हें उत्तर प्रदेश पुलिस के खिलाफ कोई सबूत नहीं मिले हैं। बता दें, इस मामले की जांच के लिए सुप्रीम कोर्ट ने रिटायर्ड जस्टिस बीएस चौहान की अध्यक्षता में तीन सदस्यीय कमेटी बनाई थी। इसमें पूर्व डीजीपी केएल गुप्ता और हाईकोर्ट के पूर्व जज शशिकांत अग्रवाल शामिल थे। कमेटी ने विकास दुबे एनकाउंटर मामले में कई लोगों से पूछताछ की जिसके बाद सबूतों के अभाव में पुलिस को क्लीन चिट दे दी गई है।
गौरतलब है, 2 जुलाई 2020 को कानपुर के चौबेपुर थानाक्षेत्र के बिकरु गांव में देर रात पुलिस पर जानलेवा हमला कर 8 पुलिस कर्मियों को मौत के घाट उतारने वाले कुख्यात गैंग्स्टर विकास दुबे को पुलिस ने घटना के 8 दिन बाद उज्जैन के महाकाल मंदिर से पकड़ा था। जिसके बाद यूपी पुलिस उसे रोड मार्ग के जरिये कानपुर लेकर आ रही थी। तेज बारिश के वक्त पुलिस की गाड़ी पलटने के बाद विकास ने पुलिस का हथियार छीनकर भागने की कोशिश करते हुए पुलिस पर हमला कर दिया जिसके बाद पुलिस ने आत्मरक्षा में उस पर गोली चला दी। इस एनकाउंटर में उसकी मौत हो गई थी।