मुलेठी के सेवन से शारीरिक बीमारियों से पाए छुटकारा, इसमें छिपे सैकड़ों पोषक तत्व

आईआईएमटी न्यूज डेस्क, ग्रेटर नोएडा




मुलेठी अदरक की तरह होती है अंतर यही है कि मुलेठी मुलेठी सूखी और टाइट होती हैं। इसके उपयोग से सैकड़ों बीमारियों को का ईलाज किया जा सकता है।
इसमें कैल्शियम, ग्लीसिर्रहिजिक एसिड, एंटी ऑक्सिडेंट, एंटीबायोटिक, प्रोटीन, विटामिन ए, ई और आयरन पाया जाता है। साथ ही इसमें मैग्नीशियम, पोटैशियम, सेलेनियम, फास्फोरस, सिलिकॉन और जिंक कैल्शियम, ग्लीसिर्रहिजिक एसिड, एंटी ऑक्सिडेंट, एंटीबायोटिक और प्रोटीन, मुलेठी विटामिन-ए और ई से भरपूर होता है। इसके अलावा यह कैल्शियम, आयरन, मैग्नीशियम, पोटैशियम, सेलेनियम, फास्फोरस, सिलिकॉन और जिंक की भरपूर मात्रा होती हैं। इसके नियमित उपयोग से सूखी खांसी, मधुमेह, सांस की समस्या, आर्थराइटिस, अवसाद व आंखों की समस्या को दूर करने में मददगार है। इसी के साथ पाचन, त्वचा, मुंह की दुर्गंध, कंठ रोग, उदर रोग, हृदय रोग व घाव सिरदर्द, बालों के झड़ने की समस्या, माइग्रेन, कान की समस्या, मुंह में छाले की समस्या को ठीक करने में रामबाण बताई गई हैं। विशेषज्ञ भी मुलेठी का उपयोग करने की सलाह देते हैं। इसमें बहुत सी बीमारियों को ठीक करने की शक्ति होती है। इसके उपयोग से गले की समस्या, हिचकी, पेट व आंत की समस्या, दिल की समस्या, मूत्र के जलन, यूरिनरी रिटेंशन, फोड़ा फुंसी, पसीने से गंध और मिरगी जैसी समस्या से छुटकारा मिलता है।