केरल में मिले ज़ीका वायरस के 5 नए मामले, 28 पहुंची मरीजों की संख्या

आईआईएमटी न्यूज डेस्क, ग्रेटर नोएडा



एक तरफ वैश्विक महामारी कोरोनावायरस लोगों की ज़िंदगी बेहाल किए हुए है तो दूसरी तरफ ज़ीका वायरस ने लोगों के बीच डर का माहौल पैदा हो गया है। बीते दिन केरल के स्वास्थ्य मंत्री वीणा जॉर्ज ने बताया कि ज़ीका वायरस की पुष्टि एक 73 वर्षीय महिला में हुई है। जबकि 4 अन्य लोगों में इस संक्रमण के लक्षण पाए गए हैं। इसके बाद राज्य में ज़ीका वायरस से पीड़ित लोगों की संख्या 28 हो गई है।
इसी बीच केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय की ओर से भेजी गई सात सदस्यीय टीम ने केरल की राजधानी तिरुवनंतपुरम के उस अस्पताल का दौरा किया जहां ज़ीका वायरस का पहला केस पाया गया था। हालांकि अभी तक टीम को वायरस के एपिसेंटर का पता नहीं चल सका है।
ज़ीका वायरस के लक्षण
डॉक्टरों के मुताबिक ज़ीका वायरस मच्छरों से फैलता है। जिसके बाद इसके लक्षण डेंगू जैसे ही होते हैं। इस वायरस से संक्रमित व्यक्ति को हल्का बुखार, शरीर पर चकत्ते पड़ना, जोड़ों में दर्द होना आदि जैसी समस्याओं से जूझना पड़ता है।
वहीं, दूसरी तरफ तिरुवनंतपुरम की डीएमओ डॉ शीनू केएस के मुताबिक ज़ीका वायरस के फैलने के सोर्स का अभी तक पता तो नहीं चल सका है लेकिन प्रयास किए जा रहे हैं। उन्होंने बताया लॉकडाउन के कारण लोग घरों में कैद थे इस वजह से गंदगी और साफ-सफाई की कमी से उत्तपन्न हुए मच्छरों से इस संक्रमण के फैलने का अंदाजा लगाया जा रहा है। हालांकि अभी तक इस बात की पुष्टि नहीं हुई है।