महंगाई को लेकर आरबीआई चिंतित, कहा- सरकार को पेट्रोल और डीजल पर टैक्स कम करने की जरूरत

आईआईएमटी न्यूज डेस्क, ग्रेटर नोएडा



भारतीय रिजर्व बैंक ने देश में बढ़ती हुई महंगाई पर चिंता जताते हुए सरकार को चेताया है कि केंद्र और राज्य सरकारों पेट्रोल-डीजल पर कर तथा अधिभार कम करे। शुक्रवार को जारी अपनी मौद्रिक नीति बयान में वित्त वर्ष 2021-22 का महंगाई अनुमान बढ़ा दिया गया है। इसमें कहा गया है 'पेट्रोल एवं डीजल की महंगाई के कारण बढ़ते लागत के दबाव को कम करने के लिए केंद्र तथा राज्य सरकारों द्वारा उत्पाद शुल्क, अधिभार और करों को संयोजित करने की जरूरत है।'
केंद्रीय बैंक ने अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर कॅमोडिटी, खासकर कच्चे तेल के बढ़ते दाम और लॉजिस्टिक्स लागत में वृद्धि से मुद्रास्फीति बढ़ने के जोखिम का अंदेशा व्यक्त किया है। उसने मौजूदा वित्त वर्ष की 30 जून को समाप्त हो रही पहली तिमाही का महंगाई दर अनुमान 5.2 प्रतिशत पर स्थिर रखा है, जबकि अगली तीन तिमाहियों का महंगाई अनुमान अप्रैल की बयान के मुकाबले बढ़ा दिया है।