केंद्र सरकार ने सभी राज्यों के मुख्यमंत्रियों को 3टी+वी फॉर्मूला अपनाने के दिए संकेत

आईआईएमटी न्यूज डेस्क, ग्रेटर नोएडा



देश में कोविड के कहर ने मानव जीवन को खतरनाक मोड़ पर खड़ा कर दिया है हालांकि वैक्सीनेशन की अधिकतम डोज मिलने से दिनोंदिन मामले घटते जा रहे हैं। एम्स के एक्सपर्ट ने बताया कि पहले की तरह लापरवाही हुई तो तीसरी लहर को टाला नहीं जा सकता है। संक्रमण का खतरा कम होते ही कई राज्यों में ढील मिलना शुरू हो गई है। उन्होंने कहा कि कहीं लापरवाही की ढील देश में बड़ी डील न बन जाए। एक्सपर्ट ने चेतावनी देते हुए कहा कि लापरवाही से सावधान रहें और कोविड प्रोटोकॉल्स का पालन करें। इस संबंध में केंद्रीय गृह सचिव अजय भल्ला ने सभी राज्यों के सचिवों को चिट्ठी लिखी है और उन्हें '3T+V' फॉर्मूला अपनाने को कहा है। इसका मतलब है कि मास्क पहने, हाथ साफ करें, सामाजिक दूरी और बंद जगहों में वेंटिलेशन के ऊपर भी काम करें। उनका कहना है कि भले ही कोरोना के मामले घट रहे हैं लेकिन इसकी वजह से जांच दर में गिरावट नहीं आनी चाहिए। वहीं केंद्र सरकार ने राज्यों में टीकाकरण की डोज प्रत्येक नागरिक तक पहुंचने के निर्देश दिए हैं। साथ ही उन्होंने कहा कि राज्यों में भले ही
प्रतिबंधों में ढील जरूर दें लेकिन शर्तों के साथ और स्थिति पर पैनी नजर रखें ताकि कोरोना नियमों की जरा भी अनदेखी न हो सके।