सरकारी अस्पताल में ऑक्सीजन मिलने में 5 मिनट की देरी से हुई 11 कोरोना संक्रमितों की मौत

आईआईएमटी न्यूज डेस्क, ग्रेटर नोएडा



आंध्र प्रदेश के तिरुपति स्थित सरकारी अस्पताल में ऑक्सीजन मिलने में 5 मिनट की देरी से 11 कोरोना संक्रमित मरीजों की मौत हो गई। देर रात हुई इस घटना पर राज्य के मुख्यमंत्री वाई एस जगन मोहन रेड्डी ने दुख व्यक्त किया है साथ ही जांच के आदेश दिए हैं।
चित्तूर जिलाधिकारी एम हरि नारायण के मुताबिक रुइया अस्पताल को पूर्ण रूप से कोविड डेडीकेटेड घोषित किया गया था। इसमें कुल 700 कोविड मरीजों का इलाज चल रहा था। इस दौरान ऑक्सीजन सिलेंडरों के खाली होने पर उन्हें तत्काल भरने में हुई 5 मिनट की लापरवाही से 11 कोरोना मरीजों की जान चली गई। ये सभी मरीज आईसीयू वार्ड में भर्ती थे। अस्पताल की सुपरिटेंडेंट डॉक्टर भारती ने बताया कि यहां कोरोना के अलावा अन्य मरीजों का भी इलाज चल रहा है, जिनमें कुछ की हालत गंभीर बनी हुई है।
बता दें कि इससे पहले भी कई अन्य राज्यों में ऑक्सीजन की कमी से कोरोना संक्रमित मरीजों की मौत हो चुकी है। हाल ही में दिल्ली के बत्रा हॉस्पिटल में ऑक्सीजन ना मिलने के कारण 12 मरीजों ने मौके पर ही दम तोड़ दिया था जिनमें एक चिकित्सक भी शामिल थे।