अफ़ग़ानिस्तान में तालिबानियों को करारा झटका, 300 तालिबानी लड़ाके ढेर

श्रुति सिंह, आईआईएमटी न्यूज़ डेस्क, ग्रेटर नोएडा



तालिबान के आतंक से परेशान अफ़ग़ानिस्तान निवासियों ने हथियार उठा लिए हैं। अफ़ग़ानिस्तानी के एक न्यूज चैनल के मुताबिक काबुल पर कब्ज़ा करने के बाद तालिबानी पंजशीर घाटी की ओर बढ़ रहे थे। इसका पता चलते ही पंजशीर विद्रोही घात लगा कर बैठ गए और तालिबानियों पर हमला कर 300 आतंकियों को मौत के घाट उतार दिया। साथ ही यह भी खबर आ रही है कि स्थानीय विद्रोहियों ने तीन और जिलों को तालिबानी आतंकियों से मुक्त करा लिया है। अफगान धीरे-धीरे हर प्रांत से तालिबानियों को खदेड़ने का प्रयास कर रहे हैं। वहीं दूसरी ओर तालिबानी यह मानने को तैयार ही नहीं हो रहे हैं कि उनके 300 लड़ाके मारे गए हैं। उनका कहना है कि उन्होंने पंजशीर के दो जिलों पर कब्ज़ा कर लिया है और जल्द ही पूरे अफ़ग़ानिस्तान में उनका राज होगा।
अफगानिस्तन में बानू के पूर्व पुलिस प्रमुख असदुल्ला के मुताबिक तीन जिलों को तालिबान के कब्जे से मुक्त करा लिया गया है और अब वह खिंजान जिले की ओर बढ़ रहे हैं। उनका कहना है कि वे जल्द ही बगलान प्रांत को भी तालिबनियों से छुड़ा लेंगे। पंजशीर के लड़ाके भी खुद को और मजबूत बनाने में लग गए हैं। सूत्रों के मुताबिक कठोर प्रशिक्षण के साथ तैयार हुए अफ़ग़ान नेशनल आर्मी के सैनिक भी पंजशीर लड़ाकों में भारी मात्रा में शामिल हैं। इस गुट का नेतृत्व नॉर्थरन अलायन्स में चीफ मुजाहिद्दीन कमांडर अहमद शाह मसूद के बेटे अहमद मसूद कर रहे हैं। अहमद मसूद ने अपने बयान में साफ कहा है कि, हम जंग के लिए तैयार हैं। हम तालिबानियों के सामने नहीं झुकेंगे बल्कि उनका डट कर सामना करेंगे।