यूपी में कोरोना से मरने वालों में 56 प्रतिशत को नहीं थी कोई बीमारी, आईसीएमआर की रिपोर्ट में खुलासा

आईआईएमटी न्यूज डेस्क, ग्रेटर नोएडा



देश में कोरोना को लेकर हर रोज नए-नए खुलासे हो रहे हैं। आंकड़ों की माने तो कोरोना वायरस बुजुर्गों और दूसरी बीमारियों से पीड़ित लोगों को सबसे ज्यादा शिकार बना रहा है। अधिक उम्र के लोगों में संक्रमण को खतरा ज्यादा है। लेकिन उत्तर प्रदेश के आंकड़े तो कुछ और ही कह रहे हैं। कम उम्र के लोगों के साथ साथ 56 फीसदी ऐसे लोगों ने अपनी जान गंवाई जो पूरी तरह भले-चंगे थे, जिन्हे कोरोना से पहले कोई बीमारी नहीं थी। सरकारी आंकड़ो की माने तो प्रदेश में जितनी मौतें हुई हैं उनमें करीब 44 फीसदी 30 से 59 वर्ष के लोग थे,स जो काफी चिंताजनक है। आपको बतादें कि यह खुलासा केंद्र और राज्य सरकार की बैठक में भारतीय चिकित्सा अनुसंधान परिषद की ओर से पेश आंकड़ों में हुआ।