बिहार में मोदी के नाम का झोला बांटने की तैयारी, एमपी-एमएलए निभाएंगे जिम्मेदारी

आईआईएमटी न्यूज़ डेस्क, ग्रेटर नोएडा



बिहार में गरीबों को अनाज से भरे मोदी के नाम वाले झोले बटवाने की तैयारी की जा रही है। बता दें कि भाजपा झोला बांटकर साबित करना चाहती है कि पार्टी ने गरीबों के हितों में काम किया है। इस मिशन को 14-21 अगस्त तक एमपी-एमएलए मिलकर संपन्न करेंगे। राज्य में कुल 50 लाख झोले बांटने का लक्ष्य है। इसके साथ ही पार्टी कार्यकर्ता प्रधानमंत्री की योजनाओं का प्रचार-प्रसार करेंगे। बता दें कि पीएम गरीब कल्याण योजना के तहत हर महीने पांच किलो मुफ्त अनाज देने की योजना चल रही है। गरीबों को आइना दिखाने के लिए बीजेपी कार्यकर्ता झोला बांटकर प्रचार करेंगे। 14 अगस्त को पटना में झोला बांटकर अभियान की शुरूआत की जाएगी। इसके बाद सभी जिलों में कार्यक्रम आयोजित होंगे। झोला पर पीएम मोदी की तस्वीर, भाजपा का कमल निशान, पीएम गरीब कल्याण अन्न योजना की तस्वीर के साथ क्षेत्रीय विधायक की तस्वीर छपी होगी। बता दें कि विधायक और सांसदों के लिए टारगेट बना दिया गया है। जानकारी के मुताबिक एक विधायक को 25 हजार और सांसद को 1 लाख झोलों का वितरण करना है। प्रदेश भर में पीएम झोला अभियान पर पूर्व विधान पार्षद और उपाध्यक्ष राधामोहन शर्मा नजर रखेंगे। पार्टी कार्यकर्ताओं को भी झोला अभियान में जरूरतमंद लोगों को झोला पहुंचाने की जिम्मेदारी सौंपी है। गठबंधन होने की वजह से भाजपा को क्रेडिट नहीं मिल पा रहा है, इसीलिए झोला अभियान के तहत बिहार में क्रेडिट लेना का वीणा उठाया गया है। आने वाले पंचायत चुनाव में भाजपा इसका फायदा उठाना चाहती है।