कोरोना से ठीक होने के बाद कैसे करें घर की सफाई, रखें कई बातों का ध्यान

आईआईएमटी न्यूज डेस्क, ग्रेटर नोएडा



कोरोना वायरस की दूसरी लहर ने अभी भी देश के कई हिस्सों को अपनी चपेट में ले रखा है. वहीं कुछ लोग इस महामारी से ठीक भी हो गए हैं। कोरोना से ठीक होने के बाद घर को सैनिटाइज और डिसइंफेक्ट करना बहुत ही जरूरी है. अगर घर को सही तरह से साफ नहीं किया जाएगा तो इससे दोबारा संक्रमण फैलने का खतरा हो सकता है।
आपको बताते है कि कोरोना पीड़ित के ठीक होने के बाद किस प्रकार से घर और आसपास सफाई रखें। घर को सैनिटाइज करने के लिए आप केमिकल युक्त प्रोडक्ट का इस्तेमाल करें. इन प्रोडक्ट्स का इस्तेमाल करते वक्त गलव्स और मास्क जरूर पहनें। हर कमरे में झाड़ू और पोंछा लगाएं। इन्हें सुखाने के लिए सीलिंग फैन चला दें और घर की खिड़कियों को खोल दें। दूसरी तरफ वहीं कमरे में मौजूद पर्दे, बेडशीट्स, पिलो कवर को अच्छी तरह धोएं. वहीं घर की सभी खिड़कियों और दरवाजों को भी साबुन वाले पानी से धोएं. फिर सोडियम हापोक्लोराइट मिक्स कर इसे डस्टर से पोंछ दें। बैठक या लिविंग रूम हर घर का आइना होता है इसलिए जरूरी है के इस कमरे में हर वस्तु अपने यथा-स्थान पर सजे रहे और मोज़े, पानी के गिलास, चाबियाँ, मोबाइल इत्यादि को हटा देना चाहिए। अखबार और मैगज़ीन के ढेर और टेलीविज़न इत्यादि के रिमोट के लिए सुव्यवस्थित स्थान तय करना ज़रूरी है ताकि यह फर्नीचर और टेबल पर फैले न रहे। हर फर्नीचर के टुकड़े और सजावट की वस्तुओ को प्रतिदिन हलके कपडे से झाड़ना ज़रूरी है ताकि धूल और गन्दगी उनपर जम न पाए। कोविड रिकवरी के बाद लैपटॉप, टीवी, मोबाइल जैसे गैजेट्स की सफाई भी बहुत जरूरी है. इसके लिए कॉमन डिसइंफेक्टेंट का इस्तेमाल करें, जिनमें अल्कोहल की मात्रा अधिक हो. हालांकि गैजेट्स की सफाई करते वक्त इस बात का ध्यान रखें कि लिक्विड डिसइंफेक्टेंट उनके अंदर न चला जाए. नॉर्मल डिसइंफेक्टेंट और डस्टर की मदद से कंप्यूटर, कीबोर्ड, माउस, टीवी, रिमोट, मोबाइल और फ्रिज के गेट को अच्छी तरह से साफ करें
यह तो हर गृह-स्वामी जानता है की चाहे पालतू जानवर हों या बच्चे, दोनों घर के सामन बिखेरते और गंदे करते हैं इसलिए उनपर हर वक़्त ध्यान रखना ज़रूरी है। इनके खिलोनो को हमेशा ठंडे पानी और हल्के डिटर्जेंट से साफ़ करें क्योकि इन्हे खिलोनो को ज़मीन में फेक कर फिर मुँह में डालने की आदत होती है। पालतू जानवर या बच्चों के साथ मॉल-मूत्र की दुर्घटनाएं आम बात है इसलिए असाधारण दाग और बदबू को अनदेखा न करें और उन गड़बड़ियों को साफ करने की प्रक्रिया में देर न करें। कुत्ता हो या बिल्ली हर पालतू जानवर के बाल झड़ते हैं, इसीलिए बिस्तर, सोफे और बाकी फर्नीचर से हरदिन बाल हटाने की प्रक्रिया करें ताकि यह एक दिन आपके भोजन तक न पहुंच जाएँ ।