पपीता के बीज में छिपे हैरान करने वाले चमत्कार

आईआईएमटी न्यूज, डेस्क ग्रेटर नोएडा



पपीता के बीज में छिपे हैरान करने वाले चमत्कार

आईआईएमटी न्यूज, डेस्क ग्रेटर नोएडा

पपीता शरीर के लिए बहुत लाभकारी हैं। रक्तचाप से जुड़ी सभी समस्याओं का रामबाण इलाज़ माना जाता हैं। अधिकांश लोग पपीता के बीज को कचरे में फेंक देते हैं। आज आपको पपीता के बीज से जुड़े कई चौंकाने वाले लाभ बताते हैं। त्वचा से लेकर आंतरिक और मानसिक बीमारियों में पपीता का बीज़ बहुत सेहदमंद हैं। बीज़ को पीसकर चूर्ण बनाकर दूध या गर्म पानी के साथ सेवन करने से ऑक्सीडेक्टिव स्ट्रेस समेत पुरानी बीमारियों से छुटकारा मिलता है। बीज का त्रिस्कार करने वाले लोगों को चौकाने वाला राज-
जीवाणुरोधक होते हैं पपीते के बीज़
पपीते में एंटीबैक्टीरियल होते हैं, इसका सेवन करने से स्टैफिलोकोकस, साल्मोनेला टाइफी, स्यूडोमोनेस एरूगिनोसा, कोलाई जैसे खतरनाक बैक्टीरिया से बचा जा सकता है। इसमें एंटीएजिंग गुण होते हैं। बीजों को चबाने से उम्र से पहले पड़ने वाली रिंकल्स और फाइनलाइंस को समाप्त करती हैं। सूजन में पपीते का बीज़ लाभकारी हैं। इसमें बिटामिन सी, एल्कलॉइड, फ्लेवोनॉइड, और पॉलीफेनॉल्स यौगिक पाये जाते हैं। तत्व एंटी इफ्लेमेंट्री गुणों से युक्त हैं। बीज़ में छिपे फाइबर शरीर से विषाक्त पदार्थों को नष्ट करता हैं। कैंसर के शुरूआती दौर में पपीता के बीज को पीसकर बकरी के दूध में घोलकर पिलाने से रोगी को राहत मिलती हैं। बज़न को घटाने में इसका उपयोग काफी लाभदायक हैं। मेटाबॉलिज्म को विनियमित करने में मददगार साबित होता हैं। पपीता के बीज में कई रोगमुक्त रहस्य छिपे हैं। इसका सेवन करने के लिए बड़े-बड़े विशेषज्ञ सुझाव देते हैं।