टी20 वर्ल्ड कप के बाद रोहित शर्मा को मिल सकती है भारत की कमान

ऋतुराज, आईआईएमटी न्यूज़ डेस्क, ग्रेटर नोएडा



टी20 विश्व कप के बाद कप्तान विराट कोहली भारतीय टीम की कप्तानी का पद छोड़ सकते हैं। अभी वे भारत के तीनो फॉर्मेट्स के कप्तान हैं। उनकी जगह उपकप्तान रोहित शर्मा वनडे और टी20 में कप्तानी कर सकते हैं। विराट कोहली अपनी बल्लेबाजी पर फोकस करने के लिए ये फैसला ले सकते हैं। कथित तौर पर विराट तीनो फॉर्मेट्स के कप्तान होने के कारण दवाब में हैं। इसका असर साफ तौर से उनकी बल्लेबाजी में देखने को मिल रहा है। कोहली लगातार खराब बल्लेबाजी के फॉर्म से जूझ रहे हैं।
कप्तान कोहली ने अपना अंतिम शतक 2019 में बांग्लादेश के खिलाफ लगाया था। उसके बाद विराट के फैंस लंबे समय से शतक का इंतजार कर रहे हैं।
गौरतलब है कि विराट कोहली अंतरराष्ट्रीय शतक के मामले में सचिन और पोंटिग (71) से ही पीछे हैं। भारतीय कप्तान विराट कोहली ने इंटरनेशनल क्रिकेट में अब तक 70 शतक लगा चुके हैं। जिसमें टेस्ट क्रिकेट में 27 शतक और ओडीआई में 43 शतक लगाए है। टाइम्स ऑफ इंडिया के मुताबिक कोहली स्वयं कप्तानी छोड़ने का ऐलान करेंगे। 32 साल के विराट कोहली भारतीय टीम के सफल कप्तानों में से एक हैं। वे वनडे में दूसरे और टी20 में पांचवे स्थान पर हैं। बीसीसीआई के सूत्रों के अनुसार पता चला कि भारतीय कप्तान कोहली ने इसके बारे में रोहित शर्मा और टीम मैनेजमेंट से लंबी बातचीत की है। रोहित शर्मा को वाइट बॉल के लिए टीम की कमान दी जा सकती है। वहीं विराट कोहली टेस्ट कप्तान बने रहेंगे। विराट कोहली की फिटनेस को देखते हुए अंदाजा लगाया जा सकता है कि वे अभी 5-6 साल क्रिकेट खेलते रहेंगे।
सबसे बड़े मेंगा इंवेट का आयोजन 17 अक्टूबर से 14 नवंबर तक ओमान और यूएई में खेला होने वाले हैं। रोहित शर्मा की बात करें तो वे आईपीएल के सबसे सफल कप्तान हैं। उन्होंने अपने कप्तानी में मुंबई इंडियंस को पांच बार आईपीएल चैंपियन बना चुके हैं। वहीं, विराट कोहली अपनी कप्तानी में आरसीबी को एक भी ट्रॉफी नहीं दिला पाए हैं। दूसरी ओर कोहली बतौर कप्तान भारत को एक भी आईसीसी ट्रॉफी नहीं जिता सके हैं। बात दें कि अगले महीने से होने वाले टी20 विश्व कप में भारत के पूर्व कप्तान टीम इंडिया का मेंटर बनाया गया है। भारतीय टीम को कोहली की कप्तानी में 2017 चैंपियंस ट्रॉफी, 2019 वनडे विश्व कप और 2021 वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप में हार का सामना करना पड़ा है। ऐसे में उनकी सहायता करने के लिए धोनी को टीम के साथ जोड़ा गया है। भारतीय टीम को पिछले आठ साल से आईसीसी ट्रॉफी का इंतजार है। टीम इंडिया ने अंतिम बार 2013 में धोनी की कप्तानी में आईसीसी ट्रॉफी का खिताब जीता था। भारत के सबसे सफल कप्तान में महेंद्र सिंह धोनी का नाम सबसे ऊपर है। धोनी ने अपने कप्तानी में वनडे विश्व कप, टी20 विश्व कप और चैंपियंस ट्रॉफी तीनों में भारत को ट्रॉफी दिलाई है। जबकि आईपीएल में भी धोनी ने तीन बार चेन्नई सुपर किंग्स को चैंपियन बनाया है।