होली पर किस प्रकार रखें अपनी त्वचा का ख्याल, आंखों में जलन होने पर करें डॉक्टर से संपर्क

आईआईएमटी न्यूज़ डेस्क, ग्रेटर नोएडा



होली के मौके पर अक्सर आप लोगों से कहते सुना होगा "बुरा न मानो होली है"। होली प्रेम और सद्भाव का पर्व है। इस मौके पर लोग गिले-शिकवे मिटाकर एक दूसरे को पहले रंग लगाते हैं। इसके बाद गले लगाते हैं। वहीं, छोटे अपने से बड़े लोगों को तिलक लगाकर उनसे आशीर्वाद प्राप्त करते हैं। देशभर में होली हर्षोउल्लास के साथ सभी धर्मों के लोग मनाते हैं। हालांकि, रंगों के इस त्यौहार में आर्टिफिशियल रंगों से त्वचा और बालों को नुकसान पहुंचता है। इन रंगों में केमिकल्स मिले होते हैं। इसके लिए अपनी त्वचा और बालों का विशेष ख्याल रखें। अगर आप भी असमंजस में हैं कि कैसे त्वचा और बालों की देखभाल करें,
होली पर इन 5 बातों का रखें विशेष ध्यान जरूर दे

1 त्वचा की सुरक्षा के लिए विशेष देखभाल आवश्यक रखना चाहिए l जब भी होली खेलने निकलें, उससे पहले त्वचा पर कोई तेल यह फिर तैलीय क्रीम, घी, मलाई लगाकर निकलें, ताकि त्वचा पर रंगों का विपरीत असर न पड़े। और रंग आसानी से उतर जाए

2 बालों को रंग से बचाने का पूरा प्रयास करें। क्योंकि बालों से रंग निकलने में सबसे ज्याद परेशानी होती है। बालों से रंगों को दो से तीन बार साफ़ करें। जब रंग पूरी तरह से निकल जाए, तो शॉवर लें। इसके बाद त्वचा और शरीर पर मॉइस्चराइजर लगाएं।
3. आखें हमारे शरीर का सबसे सेंसिटिव पार्ट्स हैं यदि होली खेलते समय आंखों में रंग चला जाए तो तुरंत आंखों को साफ पानी से धोएं। आंखें धोने के बाद भी तेज जलन हो, तो बिना देर किए डॉक्टर को दिखाएं।
4. होली पर पक्के रंगी का इस्तेमाल कम से कम करें क्योंकि यह त्वचा को काफी नुकसान पहुंचाता है।
5. बाजार के हरे रंग से होली खेलते समय ध्यान रखें, इसमें कॉपर सल्फेट पाया है, जो आंखों में एलर्जी, सूजन अंधापन जैसी समस्याएं पैदा कर सकता है। इस बात का विशेष ध्यान रखें।