श्री वागेश्वर धाम सिद्धपीठ श्रद्धालुओं की मनोकामनाएं करता है पूरी, शनिवार को साध्य और असाध्य बाधाओं को काटा जाता है

आईआईएमटी न्यूज़ डेस्क, ग्रेटर नोएडा



मध्यप्रदेश के छतरपुर जिले से पैंतीस किलोमीटर दूर स्थित ग्राम गढ़ा में श्री वागेश्वर धाम सिद्धपीठ आश्रम लोगों की आस्था का केंद्र बना हुआ है यहां पर शनिवार को लोगों की साध्य तथा असाध्य बाधाओं को रहस्यमय तरीके के काटा जाता है। आश्रम में आसपास के जिलों के अलावा दिल्ली, मुंबई, छत्तीसगढ़ सहित दूर दराज के लोग आते हैं और काम सिद्ध होने के बाद भंडारा भी करते है यहां पर नि:शुल्क कष्ट निवारण का कार्य पं. धीरेन्द्र कृष्ण जी महाराज जी द्वारा किया जाता है। धाम सड़क, रेल और हवाई मार्ग से जुड़ा है। खजुराहो इंटरनेशनल एयरपोर्ट से 25 किमी की दूरी टैक्सी के माध्यम से तय की जा सकती है। साथ ही जबलपुर और ग्वालियर एयरपोर्ट से भी पहुंचा यहां पहुंचा जा सकता है। आपको बता दें कि, धाम से खजुराहो रेलवे स्टेशन 23 किमी और छतरपुर 26 किमी की दूरी पर स्थित हैं। बसों से आने वाले यात्री गंज बस अड्डा, खजुराहो और छतरपुर पहुंचते हैं। बता दें कि गंज बस अड्डा की दूरी 9 किमी हैं। धाम में पहुंचने के लिए सभी साधन आसानी से मिल जाएंगे। ठहरने की व्यवस्था में स्पेशल होटल्स, सामान्य होटल के अलावा धर्मशालाएं और गेस्टहाउस उपलब्ध हैं। बागेश्वर धाम में बालाजी महाराज के साथ भूतनाथ महादेव और रामजानकी की मूर्ति स्थापित हैं। मंगलवार और शनिवार को धाम में लाखों की संख्या में श्रद्धालु पहुंचते हैं।