पूर्व अमेरिकी राष्ट्रपति का भारत को लेकर बयान, कहा- रामायण और महाभारत सुनकर बीता बचपन

आईआईएमटी न्यूज डेस्क, ग्रेटर नोएडा



अमेरिका के पूर्व राष्ट्रपति बराक ओबामा की किताब 'ए प्रोमिस्ड लैंड' में भारतीय नेताओं पर की गई टिप्पणी के कारण देश में चर्चा का विषय बने हुए हैं। अपनी इसी किताब में उन्होंने कहा है कि उनके मन में भारत के लिए एक विशेष स्थान है। ऐसा इसलिए क्योंकि उन्होंने बचपन में इंडोनेशिया में रहते रामायण और महाभारत के महाकाव्य को सुना है। ओबामा का कहना है कि वह 2010 में बतौर राष्ट्रपति के तौर पर यात्रा से पहले कभी भारत नहीं आए थे, लेकिन यह देश हमेशा उनकी कल्पना में एक विशेष स्थान रखता है। उन्होंने अपनी किताब में आगे लिखा है कि भारत के प्रति उनके आकर्षण की प्रमुख वजह महात्मा गांधी हैं। गांधी ने 'ब्रिटिश शासन के खिलाफ सफल अहिंसक आंदोलन, हाशिए पर पहुंच गए समूहों के लिए एक उम्मीद की रोशनी बना। बता दें कि'ए प्रॉमिस्ड लैंड' के दो हिस्से हैं। पहला हिस्सा आज से विश्व के बुकस्टोर्स पर उपलब्ध है।