शिकाकाई के इस्तेमाल से दूर हो जाएगी बाल टूटने की समस्या, केमिकल प्रोडक्ट्स से है कई गुना बेहतर

आईआईएमटी न्यूज़ डेस्क, ग्रेटर नोएडा



बालों का टूटना-झड़ना आजकल आम समस्या है। इसके पीछे कई सारी वजह हो सकती हैं। कभी तनाव भरी जिंदगी तो कभी धूल-मिट्टी और प्रदूषण। वहीं खानपान की कमी और केमिकल वाले प्रोडक्ट की वजह से भी बालों का झड़ना नहीं रुकता। ऐसे में जरूरी है कि कुछ असरदार उपाय किए जाएं। इन उपायों में शिकाकाई का इस्तेमाल भी शामिल है। आयुर्वेदिक जड़ी-बूटी शिकाकाई का इस्तेमाल करना बालों के लिए काफी फायदेमंद होता है।
आंवला रीठा और शिकाकाई का पेस्ट बनाकर लगाना बालों के लिए बहुत लाभकारी होता है। इन तीनों चीजों को लेकर रातभर भिगोकर रख दें। सुबह इनका का पेस्ट बनाकर बालों में लगाकर एक से दो घंटे के लिए छोड़ दें। फिर बालों को पानी से अच्छे से धो लें। ये बालों को नर्म, मुलायम और घना बनाने के साथ ही मजबूती देते हैं। इसके साथ ही शिकाकाई को बालों में लगाने से बालों के असमय सफेद होने की प्रक्रिया पर भी रोक लगती है। साथ ही डैंड्रफ भी कम होने लगता है। अगर आपको लंबे बालों की चाह है तो शिकाकाई इसमे भी आपकी मदद कर सकता है। इसमे एंटी बैक्टीरियल और एंटी फंगल गुण होते हैं, जो इंफ्लेमेशन को कम कर बालों को हेल्दी बनाते हैं। इसके कारण बालों में ग्रोथ अच्छी तरीके से होती है। अगर बालों में आपने कई सारे ट्रीटमेंट, स्ट्रेटनिंग कराए हुए हैं लेकिन इसके बावजूद बालों का दो मुहां होना नहीं रुक रहा तो शिकाकाई का इस्तेमाल दो मुंहे बालों से छुटकारा दिलाने में आपकी पूरी तरह से मदद कर सकता है।