वट सावित्री की पूजा कर पति के लिए की लंबी उम्र की कामना, मंदिरों में पहुंची महिलाएं

आईआईएमटी न्यूज डेस्क, ग्रेटर नोएडा




ग्रेटर नोएडा में महिलाओं ने व्रत रहकर वट वृक्ष की पूजा कर पति की दीर्घायु, अखंड सौभाग्य व परिवार की उन्नति की कामना की। इसके लिए सुबह से ही वट वृक्षों के निकट भीड़ लगी रही।महिलाओं ने विधि-विधान से पूजन किया। बता दें कि आज एक साथ तीन संयोग पड़ रहे हैं। आज साल का पहला सूर्यग्रहण, वट सावित्री व्रत और शनि जयंती पड़ रही है। ऐसे में सूर्यग्रहण के समय से पूर्व ही व्रत व पूजन करना लाभकारी माना जा रहा है। मंदिर के पुजारी ने बताया कि ज्येष्ठ माह की कृष्ण अमावस्या को वट सावित्री व्रत रखा जाता है। महिलाएं ये व्रत पति की दीर्घायु, अखंड सौभाग्य व परिवार की उन्नति के लिए रखती हैं। इस दिन वट वृक्ष की पूजा करना श्रेयस्कर माना जाता है। दूसरी तरफ मंदिरों में कोरोना के नियमों का पालन भी देखने को मिला। मंदिर पहुंची मानसी गोयल ने कहा कि मान्यता है कि बरगद के पेड़ के नीचे ही सावित्री ने अपने पति सत्यावान को पुनर्जीवित किया था। तब से सुहागिन महिलाएं अपने पति की लंबी उम्र के लिए वट सावित्री के दिन बरगद के पेड़ की पूजा करती हैं।