रूसी समाचार एजेंसी तास का दावा, पिछले साल गलवान घाटी में मारे गए थे 45 चीनी सैनिक

आईआईएमटी न्यूज डेस्क, ग्रेटर नोएडा



रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने आज राज्यसभा में एलएसी पर स्थिति को साफ किया। इसी बीच रूसी समाचार एजेंसी ने भारत और चीन को लेकर बड़ा खुलासा किया है। रूसी समाचार एजेंसी तास ने दावा किया है कि पिछले साल 15 जून को गलवान घाटी में जो खूनी झड़प हुई थी उसमें चीन के 45 सैनिक मारे गए थे। दूसरी तरफ चीन अभी तक आधिकारिक तौर पर इतने सैनिकों के मारे जाने की बात से इंकार करता रहा है। रूसी समाचार एजेंसी ने दावा किया है कि भारत ने सीधे-सीधे शब्दों में बता दिया है कि अगर क्षेत्र में हालात नियंत्रण से बाहर हुए तो हमारे सैनिक गोलियां चलाने से भी तनिक भी नहीं हिचकेंगे। बता दें कि तास ने ही सबसे पहले भारतीय और चीनी सैनिकों की पैंगोंग त्सो झील के पास से वापसी की बात कही थी