विटामिन डी की कमी से हो सकती हैं कई बीमारियां

शिवानी ओझा,आईआईएम़टी न्यूज ,हेल्थ डेस्क

आजकल सभी लोग खुद को सुन्दर बनाने के विभिन्न प्रकार के उपचार करते हैं। धूप में निकलने से कतराते हैं। ऐसी धारणा है कि धूप में निकलेंगें तो काले हो जाएंगे लेकिन सौन्दर्य के प्रति ये चिंता उनके सेहत को प्रभावित कर रही हैं। सूर्य की किरणों से विटामिन डी मिलता हैं। जो मानव शरीर को कई रोगों से दूर रखता हैं। इसकी कमी से शरीर में थकान, मासपेशियों का कमजोर होने सहित कई बिमारियां हो सकती हैं।

अगर आप भी बन्द कमरे में रहने के आदी है, धूप में जाने से कतराते है तो अपनी ये आदत बदल लीजिए। सिविल अस्पताल के चिकित्सा अधीक्षक डॉ आशुतोष दुबे ने बताया कि मानव शरीर के लिए धूप कि किरणों बहुत जरुरी हैं। इसमें विटामिन डी पाया जाता हैं जो शरीर में हड्डी की मजबूती के लिए अहम हैं। शरीर में विटामिन डी की कमी होने पर आप कई रोगों से ग्रासित हो सकते हैं।

तनाव व हड्डीयों मे दर्द

भारत में 70 फीसदी महिलाएं पर्याप्त धूप न लेने की वजह से विटामिन डी की कमी का शिकार हो रही हैं। मोटापा बढ़ने के साथ ही शरीर में विटामिन डी का स्तर भी कम हो जाने से महिलाएं अक्सर उदास व तनाव में रहती हैं। ऐसे में विटामिन डी के स्तर की जांच अवश्य करायें । यदि हड़्डियों में दर्द होता हैं तो यह विटामिन डी की कमी से हो सकता हैं।



चिड़चिड़ापन व गुस्सा

बच्चों में विटामिन डी की कमी होने पर उनके बर्ताव में बदलाव और चिड़चिड़ेपन की समस्या ज्यादा देखी गई है। मुख्य शोधकर्ता प्रोफेसर Eduardo Villamor बताते हैं कि जिन बच्चों में स्कूली शिक्षा के दौरान विटामिन डी की कमी होती है। उनके स्वभाव में चिड़चिड़ेपन की समस्या आ जाती हैं। छोटी उम्र में ही बच्चों को छोटी-छोटी बातों पर इतना गुस्सा आता है कि वे गुस्से के कारण चीजों को तोड़ने-फोड़ने और खुद को नुकसान पहुंचाते हैं।

इसकी कमी को दूर करने के लिए मार्केट में कई प्रकार के मेडिसिन मिलती हैं, लेकिन कई शोध में दावा किया गया हैं कि विटामिन डी के लिए किसी तरह के कोई सप्लीमेंट लेने का कोई फायदा नहीं होता हैं। इसकी कमी को दूर करने के लिए सूर्य की किरणों में बैठे, इससे शरीर को पर्याप्त मात्रा में विटामिन डी मिलती है।