सुपरस्टार दिलीप कुमार का 98 वर्ष की आयु में निधन, बॉलीवुड में छाई उदासी

आईआईएमटी न्यूज डेस्क, ग्रेटर नोएडा



फिल्म जगत के दिग्गज अभिनेता दिलीप कुमार का बुधवार सुबह मुंबई स्थित हिंदुजा अस्पताल में निधन हो गया। 98 वर्ष की आयु में प्रात: करीब 7:30 बजे उन्होंने आखिरी सांस ली। दरअसल, 1 महीने पहले सुपरस्टार दिलीप कुमार को सांस संबंधित समस्या के चलते अस्पताल में भर्ती कराया गया था। इस दौरान डॉक्टरों ने उनके फेफड़ों की सर्जरी कर 5 दिनों के भीतर छुट्टी दे दी थी।
बॉलीवुड में छाई उदासी
ट्रेजेडी किंग दिलीप कुमार की मौत की खबर से बॉलीवुड में उदासी की लहर दौड़ गई है। सभी सितारे दिवंगत अभिनेता को सोशल मीडिया के जरिये श्रद्धांजलि अर्पित कर रहे हैं। वहीं फैंस भी उनको याद करते हुए खुदा से उन्हें जन्नत बख्शने की दुआ कर रहे हैं।
पाकिस्तान में जन्में दिलीप “साहब”
11 दिसंबर 1922 को दिलीप कुमार का जन्म पाकिस्तान में हुआ था। उनकी शुरुआती पढ़ाई नासिक में हुई। यहां रहते हुए उन्होंने फिल्म जगत की ओर रुख किया। अपनी पहली फिल्म ज्वार भाटा से सिनेमा जगत में एंट्री करने वाले यूसुफ खान देखते ही देखते कब दिलीप कुमार बन गए पता ही नहीं चला। कहा जाता है, एक प्रोड्यूसर के कहने पर दिवंगत अभिनेता ने अपना नाम बदलकर दिलीप कुमार रखा था। जिसके बाद इसी नाम से ही उन्हें शोहरत प्राप्त हुई।
बेहतरीन एक्टिंग के चलते कई विशिष्ट सम्मान से नवाजित हुए दिलीप कुमार
अपनी शानदार एक्टिंग के चलते दिलीप कुमार को 8 फिल्मफेयर अवार्ड्स मिल चुके हैं। साल 1991 में उन्हें पद्म भूषण और वर्ष 2015 में उन्हें पद्म विभूषण से सम्मानित किया जा चुका है। इतना ही नहीं, 1994 में दिलीप कुमार को भारतीय सिनेमा में उनके महत्तवपूर्ण योगदान के लिए दादा साहब फाल्के फिल्म अवार्ड से नवाजित किया गया था। वहीं, 1998 में उन्हें पाकिस्तान के सर्वश्रेष्ठ सम्मान निशान-ए-इम्तियाज से सम्मानित किया गया था। कहा जाता है, सबसे ज्यादा अवार्ड जीतने के लिए दिलीप कुमार का नाम गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड में दर्ज है।