भाजपा ने चंदन तस्कर वीरप्पन की बेटी को तमिलनाडु युवा मोर्चा का उपाध्यक्ष बनाया

आईआईएमटी न्यूज डेस्क, ग्रेटर नोएडा




अपने जमाने के कुख्यात और आतंक का पर्याय बन चुके चंदन तस्कर वीरप्पन की बेटी को विद्या वीरप्पन भाजपा की तमिलनाडु युवा मोर्चा का नया उपाध्यक्ष बनाया गया है। विद्या वीरप्पन कानून स्नातक कृष्णागिरी में स्कूल फॉर किड्स का संचालन करती है। विद्या का कहना है कि मुझे मानवता पर भरोसा है। मैं किसी विशेष समुदाय से ताल्लुक नहीं रखती हूं। मुझे तमिलनाडु युवा शाखा का उपाध्यक्ष बनाया गया है इसकी जानकारी उन्हें फेसबुक के माध्यम से मिली। एक बार फिर चंदन तस्कर विरप्पन की बाते होने लगी है। विद्या ने आगे बताया कि अपने पिता के साथ उनकी मुलाकात जीवन में केवल एक बार हुई, उस समय मेरी उम्र करीब सात साल रही होगी। मुलाकात के दौरान पिता ने उससे कहा कि जीवन में अच्छा करना और लोगों की सेवा करने के लिए पढ़ाई करना। वीरप्पन की बेटी को लगता है कि उनके पिता ने आस-पास की परिस्थितियों के कारण ही गलत रास्ता चुना। बताया जाता है कि जाता है कि वीरप्पन अपने जीवन में करीब 150 लोगों को मौत के घाट उतार दिया था। मरने वालों में पुलिस और वन अधिकारी की संख्या अधिक थी। वहीं वीरप्पन पर 100 से ज्यादा हाथियों का अवैध शिकार करने और चंदन की लकड़ियों की तस्करी के भी आरोप लगे थे। 2004 में तमिलनाडु पुलिस स्पेशल टास्क फोर्स ने के विजय कुमार के नेतृत्व में उसे मुठभेड़ में मार गिराया था।