अखिलेश यादव का रामपुर दौरा रद्द, 2022 का चुनाव अपने दम पर लड़ेगी सपा

एंकर- यूपी सरकार की सख्ती के बाद राज्य के पूर्व सीएम अखिलेश यादव ने रामपुर और बरेली का दौरा रद्द कर दिया है। अखिलेश यादव ने कहा है यूनिवर्सिटी के खिलाफ सरकार, प्रशासन, और कांग्रेस सब एक हैं।

रामपुर में यूनिवर्सिटी के खिलाफ मुहिम चलाई जा रही है। सरकार नहीं चाहती कि लोगों के जीवन में बदलाव आए। अखिलेश ने कहा है कि जिला प्रशासन अपने कार्यकाल को आगे बढ़वाने के लिए ऐसा कर रहा है। यादव ने आरोप लगाया कि रामपुर के डीएम यूपी में ही पोस्टिंग चाहते हैं, इसलिए वह सरकार को खुश करने में लगे हैं। इस मामले में भाजपा-कांग्रेस और प्रशासन एक है। वहीं भाजपा को लोकतंत्र में भरोसा नहीं है।



आजम खा को बेवजह की परेशान किया जा रहा है। सरकार अपनी नाकामी को छिपाने के लिए रामपुर को मुद्दा बनाए हुए है। प्रदेश के युवाओं को नौकरी नहीं मिल रही हैं, किसान और व्यापारी दोनों दुखी हैं, प्रदेश में बेटियां सुरक्षित नहीं है, बच्चों की थालियों से खाना छीना जा रहा है।

दूसरी तरफ अखिलेश यादव ने कहा है कि 2022 चुनाव समाजवादी पार्टी अपने दम पर लड़ेगी। मालूम हो कि आजम खा को मुलायम यादव परिवार के काफी करीब माना जाता है। अब तक आजम खां पर 80 से ज्यादा मामले दर्ज हो चुके हैं। वहीं अपने दौरे को लेकर अखिलेश ने कहा कि मैं अपना दौरा दो दिन के लिए रद्द कर रहा हूं।