इमरान खान की पार्टी के नेता ने भारत से मांगी शरण

आईआईएमटी न्यूज, पंजाब। पाकिस्तान अक्सर भारत के अल्पसंख्यकों को लेकर बयान देता रहता है, कि भारत में मुस्लिम सुरक्षित नहीं है। लेकिन पाकिस्तान में अल्पसंख्यक कितने सुरक्षित हैं यह किसी से छुपा नहीं है। पाकिस्तान के सिंध, बलूचिस्तान सहित कई प्रांतों में अल्पसंख्यकों पर लगातार हमले हो रहे हैं। पाकिस्तान के अत्याचारों से परेशान होकर पाकिस्तान के पूर्व विधायक बलदेव कुमार ने भारत में राजनीतिक शरण मांगी है। बलदेव कुमार ने कहा है कि पाकिस्तान में अल्पसंख्यक के साथ-साथ मुस्लिम भी सुरक्षित नहीं है।

उन्होंने कहा है मैं भारत सरकार से अनुरोध करता हूं कि मुझे अपने यहां शरण दें। मैं पाकिस्तान वापस नहीं जाऊगा। मुझे इमरान खान से काफी उम्मीदें थी लेकिन उनके पीएम बनने के बाद देश में हालात ओर खराब हो गए हैं।



इमरान खान के समय में हिंदुओं और सिखों पर काफी जुल्म बढ़ा है। मालूम हो कि बलदेव 12 अगस्त को तीन महीने के वीजा पर भारत आए हैं।

मालूम हो कि बलदेव ने 2007 में पंजाब के खन्ना की भावना से शादी की थी। बलदेव के दो बच्चे सैम(10) और रिया(11) पाकिस्तानी नागरिक हैं, जबकि उनकी पत्नी अभी भी भारत की नागरिक है। इस समय उनकी बैटी रिया का भारत में थैलेसीमिया का इलाज चल रहा है।