बसंत पंचमी पर करें नील सरस्वती की पूजा, होती है धन-धान्य की प्राप्ति

आईआईएमटी न्यूज डेस्क, ग्रेटर नोएडा



पंचांग के अनुसार माघ मास की शुक्ल पक्ष की पंचमी की तिथि को बसंत पंचमी का पर्व मनाया जाता है। 16 फरवरी 2021 को पंचमी की तिथि है। यह पर्व जीवन में ज्ञान और शिक्षा के महत्व को भी दर्शाता है। जीवन में ज्ञान के बिना सफलता की कल्पना करना मुश्किल है। वेद और शास्त्रों में भी ज्ञान के महत्व के बारे में विस्तार से बताया गया है। वहीं कहा जाता है कि इस दिन नील सरस्वती का पूजन भी किया जाता है। ऐसी मान्यता है कि इन की पूजा करने से धन धान्य की प्राप्ति होती है। इस नील सरस्वती की मूर्ति या फिर चित्र लाकर उनका ध्यान करना चाहिए। उन्हें वस्त्र, फूल और धूप-दीप अर्पित करने चाहिए। बसंत ऋतु के आगमन पर प्रकृति से जुड़ी हर वस्तुह का सौंदर्य और ज्यािदा निखरकर सामने आ जाता है। बसंत ऋतु और कामदेव के बीच विशेष संबंध होता है, इसलिए बसंत पंचमी के दिन कामदेव और उनकी पत्नी रति की पूजा करने का भी विषेश महत्व होता है।