गुरुग्राम में कंपनी मालिक से किन्नर ने बनाया संबंध, जानिए फिर क्या हुआ?

कंपनी

तीन किन्नरों द्वारा निजी कंपनी अधिकारी के साथ फेसबुक पर दोस्ती कर संबंध बनाने के बहाने मिलकर ब्लैकमेल करने का मामला सामने आया है। पीड़ित का कहना है कि एक किन्नर ने फेसबुक पर दोस्ती कर बताया कि उसने सर्जरी करा ली है और अब वह युवती है। किन्नर पीड़ित से मिलने आया और फिर वहां अपने दो दोस्तों को बुलाकर पीड़ित को डरा-धमकाकर खाते से 34500 रुपये ट्रांसफर करा लिया। डीएलएफ फेस तीन थाना पुलिस ने मामला दर्ज कर तीनों आरोपियों को गिरफ्तार किया। पुलिस ने वसूले गए रुपये भी बरामद कर लिए है।

पुलिस के अनुसार शिकायत देने वाला व्यक्ति करनाल का मूल निवासी है। वह नोएडा की एक निजी कंपनी में वरिष्ठ अधिकारी है। इस समय गुरुग्राम डीएलएफ क्षेत्र स्थित पीजी में रहता है। शिकायतकर्ता का कहना है कि कुछ दिन पहले फेसबुक पर पलक नामक युवती से दोस्ती हुई थी। पलक ने बताया कि पहले वह किन्नर थी। फिर सर्जरी कराकर अब युवती बन गई है। दोनों में फेसबुक पर काफी बातचीत हुई और फिर मोबाइल नंबर एक्सचेंज हो गया। पीड़ित का कहना है कि 20 नवंबर शनिवार को पलक उसके पीजी में आ गई।

युवती ने संबंध बनाने की इच्छा जाहिर की। लेकिन पीड़ित जैसे ही टॉयलेट गया तो पलक ने अपने दो किन्नर साथियों को बुला लिया। फिर तीनों ने आपत्तिजनक हालत में कंपनी अधिकारी को मामले में फंसाने का दबाव दिया और धमकाया। साथ ही उसको ब्लैकमेल करते हुए अपने परिचित के खाते में 34500 रुपये ट्रांसफर करा लिए। अवैध वसूली कर तीनों वहां से फरार हो गए। मामले की शिकायत पुलिस को दी गई। जिस पर रविवार को डीएलएफ फेज-3 थाना में अवैध वसूली, धमकी देने समेत अन्य धाराओं के तहत मामला दर्ज किया है।