ईकोटेक-3 में एनपीसीएल सुपरवाइजर ने परेशान होकर घर बेचने का लिया फैसला

सुपरवाइजर

ईकोटेक-3 थाना क्षेत्र के गांव हल्द्वौनी निवासी एनपीसीएल के सुपरवाइजर ने अपने घर की दीवार पर ‘यह मकान बिकाऊ है’ लिख दिया है। सुपरवाइजर ने ट्वीट कर कहा है कि समुदाय विशेष के लोगों से परेशान होकर वह मकान बेच रहे हैं। वहीं, पुलिस का कहना है कि जून 2021 में झगड़े के बाद दोनों पक्षों में मुकदमेबाजी चल रही है। दोनों पक्ष एक दूसरे पर बढ़ा चढ़ाकर आरोप लगा रहे हैं।

एनपीसीएल के सुपरवाइजर सुनील शर्मा ने बताया कि उनका भाई रोहित शर्मा हल्दौनी गांव में ही किराने की दुकान चलाता है। आरोप है कि जून में समुदाय विशेष का युवक उनकी दुकान पर पहुंचा और रोहित के सिर पर लोहे की रॉड से हमला कर घायल कर दिया। आरोपी की तस्वीर सीसीटीवी फुटेज में कैद हुई थी। इस मामले में हत्या की कोशिश की एफआईआर दर्ज कराई गई थी। आरोप है कि रोहित का मेडिकल परीक्षण कराने के लिए एक कोरे कागज पर हस्ताक्षर कराए गए थे। इसके बाद आरोपियों पर कार्रवाई नहीं की गई। आरोप है कि इसकी पैरवी करने पर रविवार को सुनील शर्मा पर भी हमला किया गया। हालांकि वह बाल-बाल बच गया। सुनील शर्मा का कहना है कि आरोपियों से परेशान होकर वह मकान बेचने को मजबूर हैं।


पुलिस का कहना है कि जून 2021 में हुए झगड़े की मुकदमेबाजी को लेकर दोनों पक्ष में विवाद है। दोनों पक्ष पेशबंदी में एक दूसरे पर बढ़ा चढ़ाकर आरोप लगाते रहे हैं। शांति व्यवस्था बनाए रखने के लिए मुचलका पाबंदी की कार्रवाई भी की जा चुकी है।